लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का जो हश्र हुआ वो अब जगजाहिर है। वही अब नतीजों के बाद कांग्रेस में घमासान मचा है। बात पंजाब कांग्रेस की करें तो यहां भी हालात कुछ ठीक नहीं। सीएम अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) और नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) में है कि बात और भी बिगड़ती जा रही है। ताज़ा ख़बर ये है कि गुरूवार को हुई कैबिनेट की बैठक से नवजोत सिंह सिद्धू नदारद रहे।

जिससे अब कयासों का बाज़ार और भी गरम हो गया है। दरअसल लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद गुरूवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पहली कैबिनेट बैठक बुलाई थी। सभी को पूरी उम्मीद थी कि सिद्धू हर गुस्से, नाराज़गी को दरकिनार कर कैबिनेट की बैठक में हिस्सा जरूर लेंगे लेकिन जैसा अनुमान था वैसा हुआ नहीं। सिद्धू कैबिनेट की बैठक में नहीं पहुंचे। खास बात ये है कि सिद्धू कैबिनेट की बैठक के दौरान चंडीगढ़ में ही थे बावजूद इसके वो बैठक से नदारद रहे। जिससे दोनों के बीच नाराज़गी और भी बढ़ती जा रही है।

इस वजह से बढ़ा अमरिंदर -सिद्धू के बीच विवाद ( Dispute Between Amrinder Singh and Navjot Singh Sidhu)

आपको बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान दौरे के बाद इस पूरे मामले की शुरूआत हुई थी। तब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि सिद्धू को ऐसा नहीं करना चाहिए था। लेकिन दोनों के बीच विवाद सामने तब आया जब लोकसभा चुनाव के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने कहा था कि कैप्टन साहब की वजह से मेरा चंडीगढ़ से टिकट काट दिया गया। जिसके बाद से ही दोनों के बीच जुबानी जंंग तेज़ हो गई थी। और अब ये लड़ाई खुलकर सामने आ गई है।

सिद्धू उठा सकते हैं बड़ा कदम

वहीं अब ख़बर है कि सिद्धू एक से दो दिनों में कोई बड़ा फैसला भी ले सकते हैं। दरअसल कहा जा रहा है कि नवजोत सिंह सिद्धू का मंत्रालय बदला जा सकता है। तो वही इन ख़बरों पर सिद्धू ने भी साफ कर दिया है कि अगर उनका मंत्रालय बदला गया तो वो अगला कदम उठाएंगे।  

Facebook Comments