E-Token Website: लॉकडाउन के तीसरे चरण में केंद्र सरकार द्वारा शराब की दुकाने खोलने की अनुमति दी गई, तो ठेकों पर भारी भरकम भीड़ दिखाई देने लगी। इसी भीड़ को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने शराब के लिए ऑनलाइन टोकन की व्यवस्था की, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां न उड़े और लोगों को आराम से शराब भी मिल सके। दिल्ली सरकार के इस फैसले की तारीफ भी की गई, लेकिन महज चंद दिनों में दूसरी बार वेबसाइट क्रैश हो गई, जिसके बाद लोगों का गुस्सा भी फूट पड़ा।

दिल्ली सरकार ने शराब के ई-टोकन के लिए गुरुवार को वेबसाइट लॉन्च किया। लॉन्चिंग के बाद केजरीवाल सरकार की जमकर तारीफ भी हुई और लोगों की भारी भरकम भीड़ वेबसाइट पर भी आ पहुंची, पर वेबसाइट इतना लोड नहीं उठा सकी। दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो अब तक दो बार वेबसाइट क्रैश हो चुकी है, जिसकी वजह से लोगों ने अब खुलकर विरोध करना भी शुरु कर दिया है।

क्रैश हुई शराब के लिए बनी E-Token Website

E-Token website for sale of liquor in Delhi crashes
Source: Moneycontrol

मिली जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार की शाम को जब लोग वेबसाइट पर पहुंचे, तो वे E-Token पाने में असमर्थ रहें। दरअसल, वेबसाइट पर 404 एरर दिखाई दे रहा है। ये देखते ही लोगों का माथा सनक गया। अब हो भी क्यों न, क्योंकि दिल्ली सरकार ने ठेकों से भीड़ हटाने के लिए उपाय किया, लेकिन उनका उपाय ज्यादा दिन चल न सका। नतीजन अब लोगों को एक बार फिर से ठेकों पर जाकर भीड़ में लाइन लगानी पड़ेगी, जिससे कोरोना फैलने का खतरा भी बढ़ जाएगा।

ई-टोकन के फ़ायदे

E-Token website for sale of liquor in Delhi crashes
Source: News18

शराब की दुकानों पर लगे भीड़ को हटाने का सबसे बेहतरीन तरीका ई-टोकन ही माना जा रहा है और इसी तरीके को दिल्ली सरकार ने लागू भी किया। दरअसल, इसके तहत शराब की दुकान पर 1 घंटे में सिर्फ 50 लोग ही आ सकेंगे, जिससे भारी भरकम भीड़ से बचा सकता है। बता दें कि ई-टोकन की मदद से ही दुकानों पर नियमानुसार सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन कराया जा सकता है। इसी कड़ी में दिल्ली सरकार ने एक वेब लिंक जारी किया, जिस पर जाकर लोग शराब खरीदने के लिए समय ले सकते हैं। यदि आप इस वेब पर जाएंगे, तो आपको शराब खरीदने का समय दिया जाएगा। इसके बाद आपके मोबाइल पर टोकन भेजा जाएगा और फिर आप निर्धारित समय पर दुकान जाकर शराब ले सकते हैं।

यह भी पढ़े:

फर्जी वेबसाइट्स का हुआ चलन

E-Token website for sale of liquor in Delhi crashes
Source: Timesofindia

मौके का फायदा उठाते हुए साइबर क्रिमिनलों ने फर्जी वेबसाइट बना डाली। आलम ये हुआ कि अब शराब की होम डिलीवरी के नाम से कई फर्जी वेबसाइट एक्टिव है, जिसकी ढेर सारी शिकायते भी सामने आ चुकी हैं। ऐसे में, आप किसी भी वेबसाइट से शराब की होम डिलीवरी न करवाए, वरना आपका पैसा भी जाएगा और शराब भी नहीं मिलेगा।

Facebook Comments