Pradhan Mantri Garib Kalyan Package: कोरोना संकट के बीच केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने गुरूवार को बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत देश के 33 करोड़ से भी ज्यादा गरीबों को 31,235 करोड़ रूपए का सहयोग दिया गया है। मंत्रालय ने बताया कि डिजिटल पेमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर के माध्यम से गरीबों को ये सहायता दी गई है। आपको बता दें कि पिछले माह मार्च के महीने में वित्त मंत्री ने गरीबों के लिए इस पैकेज की घोषणा की थी, चूंकि कोरोना की वजह से हुए लॉकडाउन के कारण देश के गरीब सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के मुताबिक गरीबों के लिए फ्री में अनाज तथा महिलाओं, बुजुर्गों और किसानों के बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने की घोषणा की थी।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Package – देश भर में 33 करोड़ लोग लाभान्वित

वित्त मंत्रालय ने बताया कि 20.5 करोड़ महिलाएं, जो जन धन खाता धारक हैं, उनके बैंक एकाउंट में 10,025 करोड़ रूपए ट्रांसफर किए गए हैं। साथ ही 2.82 करोड़ वृद्धों, विधवाओं और विकलांग जनों के बैंक खातों में 1405 करोड़ रूपए जमा किए गए हैं। इसके अलावा किसानों को भी राहत दी गई है और पीएम किसान योजना के तहत 8 करोड़ किसानों को 16146 करोड़ रूपए दिए गए।

मंत्रालय ने बताया कि यह किसानों को दी जाने वाली पहली किस्त थी। EPF में सहयोग स्वरूप 68,775 संस्थाओं ने 162 करोड़ रूपए दिए हैं। इस सहयोग से करीब 10.6 लाख कर्मचारियों को मदद मिली है। देश भर के 2.17 करोड़ बिल्डिंग और अन्य कंस्ट्रक्शन के कामगारों को 3497 करोड़ रूपए की आर्थिक सहायता की गई है।

यह भी पढ़े कोरोना इफ़ेक्ट : योगी राज में अब बिना राशन कार्ड के भी लोगों को मिल सकेगा राशन !

वित्त मंत्रालय की ओर से दी जाने वाली जानकारी के अनुसार 1 अप्रैल 2020 तक पूरे देश में PM-JDY (प्रधानमंत्री जन धन योजना) के अंतर्गत 38 करोड़ से ज्यादा बैंक एकाउंट खोले गए हैं। खोले गए इन बैंक खातों में जमा हुई राशि 8 अप्रैल 2020 तक 1.28 लाख करोड़ पर तक पहुँच चुकी है। जबकि 1 अप्रैल तक 1.20 लाख करोड़ रूपए था।

19.63 मीट्रिक टन अनाज बांटे गए

वित्त मंत्रालय ने बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत 22 अप्रैल तक 1.19 करोड़ राशन कार्डों के माध्यम से 39.27 करोड़ लोगों को लाभ मिला है। इनमें 19.63 मीट्रिक टन अनाज बांटा गया। साथ ही 1,09,227 मीट्रिक टन दलहन को देश भर के विभिन्न राज्यों में बांटा गया है, जिससे लोग लाभान्वित हुए हैं।

Facebook Comments