International Womens Day: दुनियाभर में प्रति वर्ष 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। यह दिन महिलाओं के लिए लैंगिक असमानताओं के खिलाफ अपनी आवाज उठाने के मकसद से मनाया जाता है। यह दिन महिलाओं के प्रति भेदभाव को खत्म करने और उनकी अद्भुत सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक और राजनीतिक उपलब्धियों का जश्न मनाने के लिए मनाया जाता है। हर साल महिला दिवस की एक स्पेशल थीम होती है। इस साल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस 2020 की थीम है #EachforEqual । इसी खास मौके पर मेट्रो प्रशासन महिलाओं को एक खास तोहफा देने जा रहा है। आइए जानते हैं इस खास तोहफे के बारे में:

मिलेंगें मुफ्त सेनेट्री पैड (International Womens Day Sanitary Pads Free)

international womens day sanitary pads free from 8 march
indiatoday

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके को खास बनाने के लिए, मेट्रो प्रशासन ने मेट्रो की एक्वा लाइन के सभी स्टेशनों पर मुफ्त सेनेट्री पैड उपलब्ध कराने का फैसला लिया है। नोएडा से ग्रेटर नोएडा के बीच यात्रा करने वाली महिलाओं को मुफ्त सेनेट्री पैड उपलब्ध कराये जाएंगे। इतना ही नहीं, मेट्रो प्रशासन ने महिला सशक्तिकरण के लिए नोएडा लाइन के दो स्टेशनों को नया नाम देने का भी फैसला किया है। इस लाइन के 2 स्टेशनों को ‘पिंक स्टेशन’ के नाम से नामित किया जाएगा। इसके साथ ही मेट्रो प्रशासन इन दोनों स्टेशनों की पूरी जिम्मेदारी महिला कर्मियों को सौंपने पर विचार कर रहा है। यह जानकारी गुरुवार को नोएडा मेट्रो रेल कोर्पोरेशन (NMRC) के अधिकारियों ने दी।

कई बेहतर सुविधाओं के साथ होगा फीडिंग रूम भी

इस लाइन पर कुल 21 स्टेशन हैं। महिला सशक्तिकरण के लिए प्रशासन सेक्टर 76 और ग्रेटर नोएडा को पिंक स्टेशन के तौर पर नामित करेगा। साथ ही मेट्रो प्रशासन, महिलाओं के लिए यहां पर बेबी फीडिंग रूम, डायपर को बदलने की सुविधा के साथ चेंजिंग रूम की भी सुविधा मंहैया कराएगा।

महिला कर्मचारिंयों के हाथ में होगी बागडोर

मेट्रो प्रशासन इन दोनों स्टेशनों की बागडोर महिला कर्मचारिंयों को सौंपने पर विचार कर रहा है। यहां पर सुरक्षाकर्मियों के अलावा सिर्फ महिला कर्मचारी काम करेंगी। मेट्रो प्रशान इस लाइन के सभी स्टेशनों पर सेनेट्री पैड की वेडिंग मशीन भी जल्द लगाने जा रहा है।

महिलाएं ऐसे ले सकती हैं मुफ्त सेनेट्री पैड

aqua line metro
RapidLeaks

अगर आप इन स्टेशनों के बीच यात्रा करेंगी और यदि आपको सेनेट्री पैड की आवश्यकता होगी तो आप यात्रा के लिए खरीदे गए टोकन का इस्तेमाल वेंडिंग मशीन में कर सकती हैं। इन वेंडिंग मशीनो का उद्घाटन NMRC की मैनेजिंग डायरेक्टर रितू महेश्वरी 8 मार्च को महिला दिवस के मौके पर करेंगी।

जानिए कब और क्यों मनाया गया था पहला अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस?

पहला अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 8 मार्च 1975 को, अमेरिका में मनाया था। इसके पीछे कारण था कि अमेरिका में महिलाओं को इलेक्शन में वोट करने का अधिकार नहीं था। 28 फरवरी 1909 को अमेरिका की सोशलिस्ट पार्टी के प्रार्थना पर पहली बार विश्व में महिला दिवस मनाया गया। 2014 तक, महिला दिवस 100 से अधिक देशों में मनाया गया और 24 से अधिक दिनों में इस दिन को ऑफिशियल हॉलीडे बना दिया गया।

Facebook Comments