जहां एक ओर पूरी दुनिया कोरोना वायरस नामक संकट से पीड़ित है वहीं इससे निपटने के लिए भारत सरकार ने 21 दिन का लॉक डाउन जनहित में जारी कर दिया है| इन 21 दिनों में किसी को भी अपने घर से बेवजह निकलने की इजाजत नहीं है| सभी सरकारी एवं प्राइवेट दफ्तर भी बंद किए जा चुके हैं ऐसे में आपके जेहन में यह सवाल जरूर आएगा इन दफ्तरों में काम करने वाले लोगों के घर कैसे चलेंगे?

सरकार ने इस बात का भी पूरा ध्यान रखा है की लॉक डाउन की वजह से किसी को भी आर्थिक तंगी की स्थिति में ना आना पड़े? इसके लिए सरकार ने सभी प्राइवेट कंपनियों को आदेश दिया है कि वह अपने सभी वर्कर्स को पूरी सैलरी देंगे|

लावा कर्मचारियों को मिली 20 फ़ीसदी एडवांस सैलेरी

  • जहां हर तरफ कोरोनावायरस और लॉक डाउन से अफरा-तफरी मची है वहीं एक राहत की खबर भी है|
  • मोबाइल बनाने वाली लावा कंपनी ने अपने सभी कर्मचारियों के लिए एक अच्छी खबर जारी की है|
  • यह कंपनी ने अपने सभी कर्मचारियों को 20 फ़ीसदी सैलरी एडवांस मे दे दी है|
  • बुधवार को सभी कर्मचारी अपनी 20 फ़ीसदी सैलरी पाकर खुश हुए| यह सैलरी उन्हें वेतन मिलने से 12 दिन पहले मिली.

नहीं आ रहे चाइना से मटेरियल, कंपनी है शटडाउन

लावा कंपनी ने या एक अच्छी पहल की है| लॉक डाउन की वजह से यह कंपनी लगभग 2 हफ्तों से बंद है |मोबाइल बनाने के लिए यह कंपनी चाइना के प्रोडक्ट पर निर्भर थी जोकि अब मिल नहीं रहे ऐसे में किसी भी प्रोडक्ट का उत्पादन करना नामुमकिन है लावा कंपनी के सभी कर्मचारी इस वक्त अपने घरों में ही है|

Facebook Comments