Eid in Lockdown: कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन घोषित है, जिसकी वजह से इस बार ईद के त्योहार का रंग भी फीका पड़ गया है। जी हां, धार्मिक स्थल बंद होने की वजह से इस बार मार्केट सन्नाटा पसरा हुआ है और सभी लोग घरों के अंदर ईद मना रहे हैं। बता दें कि पूरे देश में आज धूमधाम से ईद मनाई जा रही है और लोगों को घरों में रहने की सलाह भी दी गई है। याद दिला दें कि ईद के मौके पर पूरा देश जगमगाता था, लेकिन इस बार सन्नाटा पसरा हुआ है।

लॉकडाउन की वजह से धार्मिक स्थल बंद हैं, ऐसे में इस बार देश के अलग-अलग हिस्सों में मौजूद ऐतिहासिक मस्जिदों में भीड़ नज़र नहीं आ रही है और न ही कोई बाजार सजा हुआ है। कुल मिलाकर, हमारे त्योहारों को फिलहाल कोरोना की नजर लगी हुई है, जिसके खत्म होने की दुआ आज पूरा देश कर रहा है।

eid in lockdown
PTI

भाईचारे का प्रतीक है ईद

ईद का त्योहार भाईचारे का प्रतीक है। इस मौके पर बार मजिस्दों में बड़ी संख्या में लोग जुटते थे और नमाज पढ़ते थे। इस दौरान मेला भी लगा था, लेकिन इस बार ऐसा कुछ नहीं है और सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। बता दें कि ईद के मौके पर कोई एक दूसरे को बधाई देता है और घर घर जाकर मिलने की परंपरा रही है।

बंद हैं देशभर के मजिस्द (Eid Festivities Across Hyderabad Delhi)

लॉकडाउन की वजह से मजिस्दों में भीड़ नहीं है। वहां वही लोग मौजूद हैं, जो उसकी देखभाल करते हैं। बता दें कि दिल्ली की ऐतिहासिक फतेहपुरी मस्जिद ईद के दिन भी बंद रही और जो लोग देखभाल करते हैं, उन्हीं लोगों ने नमाज पढ़ी। कुल मिलाकर, लोगों से घरों में ही नमाज पढ़ने की अपील की गई है।

जामा मजिस्द में भी पसरा सन्नाटा

देश की सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक जामा मस्जिद की गलियां भी सूनी नजर आई। इस बार यहां पहले की तरह भीड़ नहीं दिखाई दी। इतना ही नहीं, यहां पर सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता किया गया है, ताकि कोई भी लॉकडाउन का उल्लंघन न करें और शांति व्यवस्था बरकरार रहे। बता दें कि देशभर में 31 मई तक लॉकडाउन घोषित है।

Facebook Comments