Railway Rules Lockdown: कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए घोषित किए गए देशव्यापी लॉकडाउन को अब धीरे धीरे खोलने की कवायद हो रही है। इसी कड़ी में 25 मई से घरेलू फ्लाइट्स चालू होंगी, तो रेलवे की सेवाएं भी 1 जून से बहाल हो जाएंगी। ऐसे में रेलवे ने लोगों को राहत देते हुए 15 जोड़ी स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस के नियमों में थोड़ा बदलाव किया है। तो चलिए जानते हैं कि पूरी खबर क्या है और इससे आपको क्या लाभ मिलेगा?

खबरों की माने तो भारतीय रेलवे ने राजधानी स्पेशल के रिजर्वेशन सिस्‍टम में बदलाव किया है, जिसकी वजह से आम जनता को काफी राहत मिली है। दरअसल, इन ट्रेनों के लिए एडवांस रिजर्वेशन पीरियड को 7 दिन से बढ़ाकर 30 दिन करने का फैसला किया गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग सफर कर सकें। याद दिला दें कि फिलहाल रेलवे 15 जोड़ी राजधानी एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन चला रहा है, जिसके लिए तत्काल बुकिंग की सुविधा नहीं है।

2 घंटे पहले आएगा चार्ट (Railway Rules)

railway changes rules
Economic Times

इन ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट वालों को सफर करने की अनुमति नहीं है। इसके अलावा ट्रेन खुलने के चार घंटे पहले पहला चार्ट निकलेगा, तो वहीं दूसरा चार्ट दो घंटे पहले आएगा। ऐसे में यदि आपका वेटिंग क्लियर हो जाता है, तो आप सफर कर सकते हैंं, अन्यथा आपको सफर करने की इजाजत नहीं मिलेगी।

1 जून से बहाल होंगी रेल सेवाएं

बताते चलें कि भारतीय रेलवे ने 1 जून से 200 विशेष ट्रेनों के लिए बुकिंग शुरू करने के 24 घंटे के भीतर 12.5 लाख यात्रियों के लिए 5.72 लाख टिकट बुक किए, जिसकी जानकारी रेल मंत्रालय की तरफ से दी गई। ऐसे में माना जा रहा है कि रेल सेवाएं बहाल होने पर ट्रेनों में काफी भीड़ देखने को मिल सकती है, लेकिन कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कड़े नियम बनाए गए हैं।

25 मार्च से स्थगित थी रेल सेवाएं

कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से लॉकडाउन की घोषणा की गई थी, जिसकी वजह से 25 मार्च से रेल सेवाएं भी बंद थी। ऐसे में अब धीरे धीरे रेल सेवाएं बहाल हो रही हैं और दूर दराज क्षेत्रों में फंसे लोग अपने अपने घर जाने में सफल रहेंगे। बता दें कि 1 जून से रेल पटरियों पर दौड़नें लगेंगी।

Facebook Comments