India Lockdown: कोरोना वायरस के देश में बढ़ते प्रभाव को देखते हुए और लोगों द्वारा इस दिशा में एहतियात ना बरतने की वजह से केंद्र सरकार ने आवश्यक कदम उठाते हुए 21 दिनों तक पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया है। इस 21 दिन की अवधि में लोगों को घरों से निकलने के लिए सख्त रूप से मना किया गया है। सरकारी और प्राइवेट दफ्तरों के साथ ही साथ यातायात के साधनों को भी पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। ये स्थिति सामान्य लोगों के लिए तो आसानी से कट जाएगी लेकिन दिहाड़ी मजदूरों और वैसे लोग जिनका जीविकोपार्जन रोज पैसे कमाने के बाद होता है, उन्हें बेहद दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस स्थिति को देखते हुए मशहूर बिस्कुट कंपनी पार्ले जी ने काफी सराहनीय कदम उठया है। आइये आपको बताते हैं इस स्थिति से निकलने के लिए पार्ले ने कौन सा कदम उठाया है।

पार्ले जी ने तीन करोड़ बिस्कुट के पैकेट बांटने की घोषणा की

जी हाँ आपने बिल्कुल ठीक सुना, जहां एक तरफ देश भर में लॉकडाउन की इस स्थिति में लोगों का घरों से निकलना मुहाल हो गया है। जरुरत की चीजें महंगी हो गई है और लोग नित नए परेशानियों का सामना कर रहे हैं। गरीबों को एक समय का खाना मिलना भी मुश्किल हो गया है। वहीं दूसरी तरफ इस स्थिति से निकलने के लिए और गरीबों की मदद के लिए मशहूर बिस्कुट कंपनी पार्ले आगे आई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, बीते बुधवार को पार्ले जी ने देशभर में इन 21 दिन के दौरान करीबन तीन करोड़ बिस्कुट के पैकेट बांटने का एलान किया है।

ज़रूरतमंदों को पार्ले बांटेगी बिस्कुट (India Lockdown)

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, पार्ले जी ने इन तीन हफ़्तों में बिस्कुट के पैकेट उनलोगों को मुहैया कराने का एलान किया है जिनके पास खाने का सामान नहीं है। जिनकी जिंदगी दिहाड़ी मजदूरी करने से गुजरती है। बता दें कि, पार्ले के एक प्रवक्ता ने इस संबंध में बयान जारी करते हुए कहा है कि, पार्ले सरकारी एजेंसियों की मदद से जरूरतमंद लोगों को बिस्कुट बाँटने का काम करेगी। उन्होनें आगे बताया की अभी पार्ले कंपनी में केवल पचास प्रतिशत लोग ही काम पर हैं, लेकिन इसके वाबजूद भी उनकी पूरी कोशिश रहेगी की बिस्कुट का उत्पादन रुके ना और लोगों तक इसे समय समय पर पहुंचाया जा सके। इस बाबत पार्ले जी के एक प्रमुख अधिकारी मयंक शाह ने ये बताया, कंपनी ने केंद्र सरकार के साथ मिलकर लोगों की मदद करने का फैसला लिया है।

यह भी पढ़े

कोरोना वायरस के चलते सरकारी हो या निजी सभी बैंको के बदले समय, जाने खुलने और बंद होने का नया टाइम

सरकारी एजेंसियों की मदद से पार्ले जी ने कुल तीन करोड़ बिस्कुट के पैकेट बांटने का मुख्य फैसला लिया है। तीन हफ़्तों के अंदर पार्ले जी ने हर हफ्ते एक करोड़ बिस्कुट बांटने का काम करेगी । कंपनी इस समय उनलोगों का डेटा एकत्रित कर रही हैं जिनके पास खाने के सामान नहीं है और जो लोग गरीबी रेखा के नीचे आते हैं। मुश्किल की इस घड़ी में जहाँ अंबानी और अडानी जैसे करोड़पतियों ने गरीबों की मदद के लिए कोई आवश्यक कदम नहीं उठाएं वहीं इस बाबत पार्ले द्वारा उठाया गया ये कदम वास्तव में बेहद सराहनीय है।

Facebook Comments