PM Modi: 24 अपैल को पंचायती राज दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश के विभिन्न ग्राम पंचायतों के संरपचों के साथ बैठक की। बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी ने भारत को ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया को परिवर्तित कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस वायरस के कारण आज हमारे सामने बहुत सारी परेशानियां हैं, लेकिन इससे हमें सबक लेना होगा।

PM Modi Tells Sarpanches covid 19 crisis taught us to be self reliant
ANI

पीएम ने बैठक के दौरान सरपंचों से कहा कि ये बिल्कुल सही बात है कि हमारे सामने रूकावटें आई हैं और तमाम मुश्किलों का भी सामना करना पड़ रहा है, लेकिन हमें संकल्प का सामर्थ्य दिखाना होगा, साथ ही नई उर्जा के साथ बढ़ना पड़ेगा।

सरपंचों से PM Modi ने कही ये 5 बड़ी बातें

1- ई ग्राम स्वराज की शुरुआत

ई-ग्राम स्वराज से देश के सभी पंचायतों का तकनीकीकरण होगा। पीएम ने कहा कि इस कदम से ग्राम पंचायतों से संपर्क आसान होगा और रिकॉर्ड आसानी से सुरक्षित रहेंगे। उन्होंने बताया कि सभी गांवों के इंफ्रास्टक्चर को ठीक करने के उद्देश्य से सरकार ने दो अति महत्वपूर्ण परियोजानएं चालू किए हैं, जिसमें से पहला है- ई-ग्राम स्वराज। और दूसरे परियोजना से सभी ग्रामवासियों के स्वामित्व योजना की शुरूआत की जाएगी।

2- कोरोना वायरस ने बनाया आत्मनिर्भरPM Modi

सरपंचों से बैठक के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी ने हम सभी देशवासियों को आत्मनिर्भर रहने का जरूरी पाठ पढ़ाया है और इस महामारी ने हमें बता दिया कि अन्य देशों पर निर्भर न होकर स्वयं की तैयारियों पर ज्यादा ध्यान दें।

3- गांव मजबूत तो लोकतंत्र मजबूत

प्रधानमंत्री ने कहा कि गांव मजबूत होगा तभी हमारा लोकतंत्र मजबूत बनेगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार लगातार गांवों को मजबूत बनाने की कोशिश कर रही है और इसी का परिणाम है कि आज देश भर के सवा लाख से अधिक गांवों को ब्रॉडबैंड मिल चुका है। साथ ही गांवों को कॉमन सर्विस सेंटर की सुविधा भी मिली है। आज लगभग हर गांव तकनीक सक्षम होते जा रहे हैं, गांवों में सस्ते मोबाइल पहुंचने से ये काम और आसान हुआ है।

4- गांवों ने पढ़ाया सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ

पीएम ने सरपंचों के माध्यम से सभी ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘एक दूसरे से दो गज दूरी’ का पाठ आपने पूरी दुनिया को बहुत ही आसान भाषा में पढ़ाया है। उन्होंने कहा कि, ये मेरे ग्रामवासियों का ही प्रयास है, इसलिए आज पूरी दुनिया में इस बात की चर्चा है कि किस तरह से भारत के लोगों ने कोरोना को परास्त किया।

5- गांवों ने अपने संस्कार और परंपराएं सिखाईं

कोरोना वैश्विक महामारी के संकट ने हम सभी को हमारे गांवों में रहने वाले सभी लोगों ने अपने संस्कारों और परंपराओं का दिखाया। पीएम ने कहा, आज इस वैश्विक संकट के बीच गांवों से जो खबरें आ रही हैं, वो सभी के लिए प्रेरणा के समान हैं।

यह भी पढ़े: PM Modi ने मंत्रियों को दी बड़ी नसीहत, सोमवार को हो सकता है बड़ा फैसला

Facebook Comments