Pradhan Mantri Mudra Yojana: अगर आप अपना खुद का कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं लेकिन पैसों की कमी के चलते आपका वो सपना साकार नहीं हो पा रहा है तो फिर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) के बारे में आपको जरूर जानना चाहिए। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना…..जिसके तहत सरकार छोटे उद्योग या कोई कारोबार शुरू करने के लिए लोन देती है। सरल शब्दों में समझे तो अगर आपके पास किसी खास बिजनेस का आइडिया है लेकिन पैसे की कमी के कारण आप अपना बिजनेस शुरू नहीं कर पा रहे हैं तो सरकार से आप उधार ले सकते हैं। दरअसल, केंद्र सरकार ने स्वरोज़गार व छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ये योजना शुरू की है। खासतौर से महिलाओं के लिए ये योजना वरदान साबित हो रही है। इस योजना से बिजनेस की चाह रखने वाली महिलाओं को इस योजना से काफी फायदा पहुंच रहा है। एक अनुमान के मुताबिक इस योजना से महिलाएं ही सबसे ज्यादा लाभान्वित हो रही हैं।

कब और क्यों हुई प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की शुरूआत [Pradhan Mantri Mudra Yojana Loan]

अप्रैल 2015 में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की शुरूआत की गई थी। इसे शुरू करने के पीछे उद्देश्य बिल्कु साफ था। एक, स्वरोज़गार के लिए लोगों को प्रेरित करना व लघु उद्योगों को बढ़ावा देना ताकि रोज़गार के ज्यादा से ज्यादा अवसर पैदा हो सके। इन दोनों उद्देश्य को लेकर ही इस योजना  की शुरूआत की गई थी। केंद्र सरकार की इस आर्थिक मदद से युवाओं को स्वावलंबी बनने में काफी सहयोग मिल रहा है।

दरअसल, सरकार का ये मानना था कि लोगों को पास टैलेंट की कोई कमी नहीं है। अगर किसी के पास बेहतरीन बिजनेस प्लान है तो वो आर्थिक कमी के चलते नहीं रूकना चाहिए। इसलिए केंद्र सरकार ने इस योजना की शुरूआत की। इसके तहत आप कुछ शर्तों को पूरा करके अपनी आवश्यकता के अनुरूप आर्थिक मदद प्राप्त कर सकते हैं। और बिजनेस आइडिया को धरातल पर उतार सकते हैं।

कौन ले सकता है प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का लाभ (Pradhan Mantri Mudra Yojana Benefits)

अगर आप भी अपने बिजनेस को शुरू करने में धन संबंधी समस्या का सामना कर रहे हैं तो प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की मदद से अपने सपने को साकार कर सकते हैं। सिर्फ यही नहीं अगर आप पहले से ही बिजनेस कर रहे हैं और उसे आगे बढ़ाने के लिए आपको पैसे की जरूरत है तो भी आप इस योजना के तहत लाभ उठा सकते हैं। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत तीन तरह से लोन लिया जा सकता है।

  • शिशु लोन – इसमें 50 हज़ार तक का लोन मिलता है।
  • किशोर लोन – इसमें 50 हज़ार से 5 लाख तक का लोन मिलता है।
  • तरूण लोन – इसमें 5 लाख से 10 लाख तक का लोन मिलता है।

जैसी ज़रूरत हो उस हिसाब से लोन लिया जा सकता है। 

कैसे लें प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन? 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन लेना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले किसी सरकारी बैंक में इसके लिए आवेदन करना होगा। वहीं आपके पास अपना मकान है तो उसके कागज़ात अन्यथा किराए के घर में रहते हैं तो उससे संबंधित दस्तावेज़ आपके पास होने चाहिए। इसके अलावा जिस बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं उसकी जानकारी, आधार कार्ड व पैन नंबर होना जरूरी है। इन सब के होने पर ही आपको लोन मिलता है।

जब आप लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो बैंक का कोई वरिष्ठ अधिकारी आपसे शुरू किए जाने वाले बिजनेस की जानकारी लेता है या फिर आपके बिजनेस आइडिया की पूरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट सब्मिट करने को कहा जा सकता है। अगर आपके पास बिजनेस से संबंधित पर्याप्त आइडिया व जानकारी होती है तो आपको लोन दे दिया जाता है।

बिना गारंटी मिलता है लोन

जब भी आप किसी बैंक से लोन लेते हैं तो आपको किसी ना किसी चीज़ की गारंटी देनी होती है। लेकिन प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप बिना किसी गारंटी के लोन हासिल कर सकते हैं। यहां तक कि लोन के लिए किसी तरह का कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता। वहीं लोन चुकाने के लिए अधिकतम अवधि 5 साल तक मिल जाती है। और 10 लाख तक के लोन के लिए आवेदन किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन की ब्याज़ दरें

हालांकि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन लेते हैं तो आपको ब्याज़ भी देना होता है। लेकिन इसके लिए कोई ब्याज़ दर निर्धारित नहीं की गई है। हर बैंक अलग अलग ब्याज़ दर पर लोन देता है। वहीं  बिजनेस किस तरह का है और उसमें जोखिम कितना है इस आधार पर भी ब्याज़ दर निर्भर होती है। हालांकि न्यूनतम ब्याज़ दर 12 फीसदी है।

Facebook Comments