बीते कुछ समय से ट्रैफिक के नियम काफी सख्त हो गए हैं। लोग ट्रैफिक द्वारा बनाए गए सभी नियमों का पालन करें, इसके लिए सरकार ने ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर जुर्माने की राशि को बढ़ा दिया है। जहां बीते समय में जिस नियम का उल्लंघन करने पर लोग 100-200 रूपए चुकाते थे, वहीं आज के समय में लोगों को हजारों रूपए देने पड़ रहे हैं। इसी के साथ जहां लोग पहले अपनी जान-पहचान और रूतबा दिखाकर नियमों का उल्लंघन करते थे और चालान भी नहीं कटने देते थे, लेकिन आज के समय में ऐसा नही है।

लखनऊ पुलिस ने काटा चालान

जी हां, क्योंकि इस बार ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर प्रियंका गांधी भी नहीं बच पाई हैं। प्रियंका गांधी को स्कूटी से ले जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ता का लखनऊ पुलिस ने चालान काट दिया है। बता दें कि यह कांग्रेसी कार्यकर्ता बिना हेलमेट के गाड़ी चला रहा था जिस वजह से पुलिस ने उनका 6100 रूपए का जुर्माना लगा दिया। बता दें कि शनिवार को प्रियंका गांधी लखनऊ में रिटायर्ड आईपीएस अफसर एसआर दारापुरी के परिजनों से मिलने उनके घर पहुंची थीं।

तभी रास्ते में भी पुलिस ने लोहिया पार्क के पास प्रियंका गांधी के काफिले को बीच में ही रोक दिया और आगे जाने से मना कर दिया। इस पर प्रियंका ने अपनी गाड़ी छोड़ दी और वो अफसर एसआर दारापुरी के परिजनों से मिलने के लिए पैदल ही आगे बढ़ गईं। बता दें कि कांग्रेस के कार्यकर्ता भी उनके पीछे-पीछे चल दिए।

प्रियंका गांधी तकरीबन 150 मीटर तक पैदल चलते हुए हाईकोर्ट के पुल पर पहुंची तभी वहां पर एक कांग्रेस का कार्यकर्ता स्कूटी लेकर पहुंच गया। प्रिंयका तुरंत ही उस स्कूटी पर बैठी और आगे बढ़ गई। कार्यकर्ता उन्हें स्कूटी पर बैठाकर चलने लगा। वहीं ये सब देखकर पुलिस के पसीने छूट गए। एएसपी ट्रैफिक पूर्णेंदु सिंह और एएसपी क्राइम दिनेश पुरी अवाक रह गए।

priyanka gandhi challan for violating traffic rules
swarajyamag

प्रियंका गांधी के इस तरह से स्कूटी पर बैठकर निकलने से हर कोई हैरान रह गया था। हर किसी के वायरलेस खड़खड़ाने लगे। सभी को तुरंत सूचना दी गई कि प्रियंका गांधी स्कूटी से पॉलीटेक्निक चौराहा की तरफ निकली हैं। अलीगंज सीओ अवनीश्वर चंद्र श्रीवास्तव भी प्रियंका गांधी के पीछे-पीछे भागे। गाजीपुर और गुडंबा समेत कई थानों की पुलिस ने भी अपने वाहन दौड़ाए। तब तक प्रियंका गांधी की स्कूटी पॉलीटेक्निक चौराहा पहुंच चुकी थी।

प्रियंका गांधी को इस तरह से खुलेआम स्कूटी में बैठे देख हर कोई हैरान था। उनको देखने के लिए लोगों का मजमा लग गया। हालांकि, प्रियंका सुरक्षित तरीके से रिटायर्ड आईपीएस अफसर एसआर दारापुरी के घर पहुंची और उनके परिजनों से मिलकर निजी वाहन से लौट गईं।

प्रियंका और स्कूटी चालक ने नहीं पहना था हेलमेट

लेकिन मामला तब बिगड़ा जब प्रियंका गांधी और स्कूटी चला रहे कांग्रेस के कार्यकर्ता ने यातायात नियमों की धज्जियां उड़ा दी, क्योंकि ना तो प्रियंका ने हेलमेट लगा रखा था और ना ही स्कूटी चलाने वाले चालक ने। दोनों को बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन पर सवारी करते देख लोगों ने अपने मोबाइल फोन से वीडियो भी बनाए। सोशल मीडिया पर भी प्रियंका गांधी को बिना हेलमेट स्कूटी पर बैठने पर खूब ट्रोल किया गया।

Facebook Comments