New Symptoms for Coronavirus: कोरोना वायरस से जुड़ी एक बुरी खबर सामने आ रही है। जी हां, अमेरिका की एक बड़ी संस्था ने कोरोना के 6 नए लक्षणों का दावा किया है, जिसके बाद से ही दुनिया के सामने एक नई चुनौती आ गई। दरअसल, अभी तक बुखार, कफ, थकान, सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षणों से ही कोरोना की पहचान होती थी, लेकिन अब मुश्किलें और भी ज्यादा बढ़ गई हैं। तो चलिए जानते हैं कि पूरी खबर क्या है?

अमेरिका में जन स्वास्थ्य की सबसे बड़ी संस्था सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने कोरोना के 6 नए लक्षणों का दावा किया है। इस संस्था का कहना है कि अब कोरोना मरीजों के अंदर 6 नए लक्षण दिखाई दे रहे हैं, जिसकी वजह से डॉक्टरों की टेंशन बढ़ चुकी है। मतलब साफ है कि अब बुखार, कफ, थकान और सांस लेने में तकलीफ होना ही कोरोना के लक्षण नहीं है, बल्कि इसकी लिस्ट लंबी हो चुकी है।

कोरोना के 6 नए लक्षण: सीडीसी (6 new Symptoms for Coronavirus)

6 new symptoms for coronavirus
Rappler

सीडीसी के मुताबिक, अब कोरोना के मरीजों में निम्नलिखित 6 नए लक्षण दिखाई दे सकते हैं-

  1. ठंड लगना
  2. ठंड से शरीर कंपकपाना
  3. मांसपेशियों में दर्द होना
  4. सिरदर्द होना
  5. गले में खराश होना
  6. स्वाद या गंध में पहचान की कमी होना।

मरीजों में दिख रहे हैं नए लक्षण : सीडीसी

सीडीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना मरीजों में नए नए लक्षण दिखाई दे रहे हैं, ऐसे में यदि आपके शरीर में कोई भी बदलाव हो रहा है, तो आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए। सीडीसी ने ये तमाम जानकारी अपनी वेबसाइट पर अपलोड की है। याद दिला दें कि पहले लोगों को बुखार, कफ और सांस लेने में तकलीफ होने पर ही अलर्ट किया गया था, लेकिन अब नए नए लक्षणों के तहत लोग सामने आ रहे हैं और उनमें कोरोना की पुष्टि हो रही है।

डॉक्टर से कब मिलना चाहिए?

यूं तो यदि आपको तेज बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ है तो डॉक्टर से ज़रूर मिलना चाहिए, लेकिन इसके अलावा यदि आपके शरीर में किसी भी तरह का कोई बदलाव हो रहा है, तो आपको एक बार डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करना चाहिए। या फिर आप भारत सरकार द्वारा जारी हेल्पलाइन पर कॉल करके अपनी स्थिति के बारे में जानकारी दे सकते हैं, ताकि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके।

Facebook Comments