देश में बढ़ती हुई वारदातों के साथ ही महिलाएं बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं हैं। उन्हें खुद को प्रोटैक्ट करने की जरूरत है क्योंकि लोग अब किसी की परेशानी से मतलब नहीं रखना चाहते हैं। 29 नवंबर को हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ जो वारदात हुई वो भूले नहीं भूली जा सकती है लेकिन उनके आरोपियों को जेल में मुफ्त का खाना मिलने लगा ये उनके लिए सही है। रेप की वारदात दिन पर दिन बढ़ती जा रही है लेकिन सरकार इसपर सख्त कानून बना नहीं पा रही तो कैसे कोई चीज रुक पाएगी। अब हैदराबाद के बाद यूपी के उन्नाव में ऐसी ही घटना सामने आई। चलिए बताते हैं क्या है पूरा मामला?

उन्नाव में फिर हुई गैंगरेप वारदात

उन्नाव में गुरुवार यानी 5 दिसंबर की सुबह 5 लोगों ने एक लड़की के साथ रेप किया और उसे जिंदा जलाकर भाग गए। मीडिया घटनास्थल पर पहुंची और ग्रामीणों ने बताया कि 90 प्रतिशत जलने के बाद पीड़िता घटनास्थल से एक किलोमीटर तक चलकर गई और इसके बाद उसने घर के बहार काम कर रहे एक व्यक्ति से मदद भी मांगी। गांव वालों ने बताया कि जलने के बाद पीड़िता ने मदद मांगी और खुद 100 नंबर डायल करके पुलिस को आपबीती बताई। पीड़िता के फोन के बाद ही पीआरवी और एंबुलेंस घटनास्थल पर पहुंची और उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया। दूसरी ओर उन्नाव कांड में पीड़िता को जिंदा जलाए जाने की घटना के बाद पीड़िता ने अस्पताल में बयान भी दिया। मजिस्ट्रेट को दिए बयान में पीड़िता ने अपने साथ हुई इस घटना को विस्तार से बताया और उन 5 आरोपियों के नाम भी लिए। पीड़िता के अनुसार, पांचों आरोपियों ने मिलकर पहले उसे पीटा, चाकू मारा और फिर जिंदा जला दिया। इसी बीच पीड़िता से मिलने उसके घरवाले सिविल अस्पताल पहुंचे और गुरुवार सुबह उन्नाव रेप पीड़िता को जलाकर मरने की कोशिश के बाद पहले उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया।

unnao rape case victim walked over 1 km with 90 per cent burns
indiatoday

भर्ती कराने के बाद लखनऊ के सिविल अस्पताल में रेफर किया गया। लखनऊ के सिविल अस्पताल में डॉक्टर्स ने पीड़िता को प्लास्टिक सर्जरी बर्न यूनिट में रखा गया और फिर इसका इलाज शुरु किया। डॉक्टर्स के मुताबिक, पीड़िता 90 प्रतिशत जल चुकी है और उसकी हालत को मुश्किल से कंट्रोल किया गया। इस बीच उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना सामने आने के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट के जरिए राज्य सरकार पर हमला किया। प्रियंका ने ट्वीट में कहा, ‘कल बीजेपी सरकार का बयान था कि यूपी में सब ठीक है। आज एक बयान आया, लेकिन कानून व्यवस्था के बारे में झूठी बयानबाजी और झूठा प्रचार करने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री और यूपी सरकार की है।’

उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाकर मारने की घटना पर पिछले 4 घंटों में प्रियंका गांधी वाड्रा के 2 ट्वीट्स आ चुके हैं। दूसरी ओर इस जलाने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से रिपोर्ट भी मांगी है। सीएम योगी ने शुक्रवार शाम तक ये रिपोर्ट मांगी और इसके साथ ही सीएम योगी ने आदेश दिया है कि पीड़िता को सरकार खर्च के लिए हर संभव मदद करेगी। कमिश्नर और आईजी को घटनास्थल का मुआयना करने के लिए भेजा गया। अब देखना ये है कि यूपी पुलिस शुक्रवार की शाम तक सीएम को रिपोर्ट मुहैया करा पाएगी या नहीं।

Facebook Comments