Netherlands government order to kill Otters: कोरोना वायरस फैलने के बाद से यह पहली बार है जब किसी जानवर की वजह से लोगों में कोरोना का संक्रमन फैला है। नीदरलैंड में एक जानवर की वजह से बहुत से लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस घटना के बाद से नीदरलैंड सरकार ने कठोर फैसला लेते हुए उन सभी जानवरों को मारने के आदेश दिए हैं। सूत्रों की माने तो कोरोना वायरस की वजह से अब नीदरलैंड में करीबन दस हज़ार से भी ज्यादा जानवरों को मारा जाएगा। आइये जानते हैं कौन सा है वो जानवर जिससे नीदरलैंड में लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं।

नीदरलैंड (Netherlands) में इस जानवर की वजह से फैला कोरोना

Otters to be killed in Netherlands
Image Source – Public Domain Pictures

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, नीदरलैंड में जिस जानवर की वजह से कोरोना संक्रमण काफी फ़ैल रहा है उसका नाम है ऊदबिलाव यानि कि, मिंक्स। ग़ौरतलब है कि, नीदरलैंड सहित यूरोप के कई देशों में इस जानवर के फर का उपयोग कपड़ें बनाने में किया जाता है। यूरोपीय फैशन इंडस्ट्री में ऊदबिलाव के फर का उपयोग सबसे ज्यादा किया जाता है। यही वजह है कि, इन देशों में मिंक्स के फार्म्स भी सबसे ज्यादा है, यहाँ पोल्ट्री फार्म की तरह ही ऊदबिलाव की फार्मिंग की जाती है। लेकिन नीदरलैंड में इस बात की पुष्टि की गई है कि, इन ऊदबिलावों से लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। लिहाजा नीदरलैंड सरकार ने हर फार्म के ऊदबिलावों को मारने के आदेश दिए हैं। नीदरलैंड फ़ूड एंड वेयर अथॉरिटी के आदेशानुसार नीदरलैंड के दस ऐसे फार्म्स हैं जहाँ ऊदबिलावों से कोरोना वायरस फ़ैल रहा है और इसलिए उन्हें मारने के आदेश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें

कोविड 19 के इलाज में सहायक हो सकती है होम्योपैथ दवाईयां, जानें फैक्ट्स ! (Homeopathy For Coronavirus)

अन्य 24 देशों से भी ऊदबिलावों की जांच कराने को कहा

Otters in Netherlands
Image Source – AFP

मिली जानकारी के अनुसार नीदरलैंड के फ़ूड एंड वेयर अथॉरिटी के अनुसार वो ऊदबिलावों के फार्म्स को तब तक खोल नहीं सकते हैं जब तक उनसे कोरोना खत्म होने की पुष्टि नहीं हो जाती है। चूँकि ये इंसानों के लिए काफी खतरनाक हो सकता है और इससे नीदरलैंड में कोरोना के मामले बढ़ भी सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, ऊदबिलाव में कोरोना होने की पुष्टि तब हुई जब पहला ऊदबिलाव अप्रैल के माह में कोरोना संक्रमित पाया गया। इसके बाद ये वायरस आस पास के दस से अधिक ऊदबिलावों के फार्म्स में फ़ैल गया। इस घटना के बाद यूके इंटरनेशनल ह्यूमन सोसाइटी की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर ने उन अन्य 24 देशों से भी ऊदबिलावों की जांच कराने को कहा जो इस जानवर की फार्मिंग करते हैं। उनका कहना है कि, अगर जरुरत पड़े उन्हें मार दें कि, इस जानवर से तेजी से कोरोना वायरस फ़ैल रहा हैं। बता दें कि, ऊदबिलावों को नीदरलैंड में मारने के लिए एक विशेष प्रकार के गैस का इस्तेमाल किया जाएगा और बाद में एक डिस्पोजल प्लांट में उनके शवों को डिस्पोज कर बाद में सभी फार्मों को सैनिटाइज़ किया जाएगा।

Facebook Comments