Hantavirus In China: कोरोना वायरस के बाद अब चीन के युन्नान प्रांत में एख व्यक्ति की सोमवार को हंता वायरस के चलते मौत हो गई है। पीड़ित व्यक्ति काम करने के लिए बस से शाडोंग प्रांत लौट रहा था। इसे हंता वायरस से पॉजिटिव बताया गया था। बस में सवार 32 अन्य लोगों की भी जांच की गई है। चीन के समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स द्वारा इस घटना की जानकारी देने के बाद सोशल मीडिया पर हड़कप मच गया है। दुनिया के सभी देश चीन के इस नए वायरस को लेकर काफी चिंतित हैं।

पहले से ही कोरोना वायरस से डरे हुए बड़ी संख्या में लोग ट्वीट करके डर जता रहे हैं कि यह वायरस भी कहीं महामारी न बन जाए। लोग ट्विट करके कह रहे हैं कि चीन के लोग जब तक जानवरों को ज़िंदा खाना बंद नहीं कर देते ऐसे वायरस बढ़ते रहेंगे। आइए जानते हैं क्या होता है हंता वायरस

हंता वायरस (Hantavirus In China)

विशेषज्ञों की मानें तो कोरोना वायरस की तरह, हंता वायरस इतना घातक नहीं है। यह चूहे और गिलहरी के संपर्क में इंसान के आने से फैल जाता है। सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक, चूहों के अंदर बाहर होने की वजह से इस वायरस के होने का खतरा बढ़ जाता है। हंता वायरस के संपर्क में कोई भी स्वस्थ व्यक्ति आ सकता है।

बता दें कि यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं पहुंचता है। लेकिन यदि कोई इंसान चूहों के मल, पेशाब, मिंगन आदि को छूने के बाद, या अनदेखी में संपर्क में आने के बाद अपने आंख, नाक और मुंह को छूता है तो हंता वायरस का खतरा बढ़ जाता है। इस वायरस से संक्रमित इंसान को बुखार, चक्कर, सिर दर्द, पेट दर्द, उल्टी व डायरिया आदि हो सकता है। इलाज में देरी होने पर संक्रमित इंसान की मौत भी हो सकती है।

यह भी पढ़े

कोरोना वायरस क्या है ? जानें इसके लक्षण, बचाव और कारण…(Coronavirus China)

क्या हंता वायरस जानलेवा है?

सीडीसी की मानें तो हां, हंता वायरस जानलेवा है। इस वायरस के कारण व्‍यक्तियों के मरने का आंकड़ा 38 प्रतिशत है। चीन में हंता वायरस का मामला ऐसे समय पर आया है जब पूरी दुनिया में चीन के वुहान शहर से उत्पन्न हुए कोरोना वायरस की मार पूरी दुनिया झेल रही है। कोरोना वायरस से अब तक 16 हजार 500 लोगों की मौत हो गई है। इतना ही नहीं अब तक कोरोना वायरस की व्‍यापकता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यह वायरस अब तक 196 देशों में फैल चुका है।

Facebook Comments