Gur ke Fayde: अक्सर ही जब लोग घर या फिर बाहर किसी रेस्टोरेंट में खाना खाते हैं तो आपने देखा होगा कि खाने के बाद उन्हें मीठा चाहिए होता है। खाना खाने के बाद अक्सर लोग स्वीट डिश के रूप में मिठाई, आइसक्रीम, हलवा आदि खाते हैं। जहां तक बात है हम हिंदुस्तानियों की तो आपने इस बात पर जरूर गौर किया होगा कि हम लोगों को तेज़ मसालेदार खाना खाने के बाद कुछ न कुछ मीठा खाने की तलब जरुर उठती है। मगर यह आवश्यक नहीं कि मीठे के रूप में हर कोई तरह-तरह की मिठाई या आइसक्रीम खा ही पाये। ऐसे में गुड़ एक ऐसा मीठा तत्व है जो लगभग हर घर में आसानी से उपलब्ध हो जाता है और इसका इस्तेमाल तकरीबन छोटे-बड़े सभी घरों में किया जाता है।

गुड़ की तासीर गर्म होती है इसलिए आम तौर पर लोग इसे सर्दियों में खाना पसंद करते हैं। हालांकि, गुड़ और चीनी दोनों ही गन्ने से बनते हैं लेकिन चीनी खाने से डायबिटीज़ का खतरा बना रहता है जबकि गुड़ इसके एकदम विपरीत है। यह एक अच्छा एंटीबायोटिक पदार्थ है जिसे खाने से शरीर में खून की कमी दूर की जा सकती है। आज हम आपको गुड़ के कुछ ऐसे अद्भुत फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें जान कर आप आज से ही गुड़ को अपनी रोज़ाना डाइट में शामिल करने को मजबूर हो जाएंगे।  तो चलिये जानते हैं क्या हैं गुड़ के चमत्कारी फायदे।

हड्डियों की मजबूती के लिए जरूरी है गुड़ [Jaggery for Bones]

Good-for-bones

कोई भी व्यक्ति चाहे कितना भी हृष्ट-पुष्ट क्यों न हो मगर सभी के जीवन में एक ऐसा वक़्त भी आता है जब उसकी हड्डियों में कमजोरी आने लगती है। हड्डियों में कमजोरी आने की वजह से हड्डियों में पीड़ा होने लगती है। इसकी एक वजह शरीर में कैल्शियम की कमी होना भी हो सकता है लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि गुड़ में भारी मात्रा में कैल्शियम और फास्फोरस पाया जाता है जो कि हड्डियों को मजबूती प्रदान करके हमे जोड़ों एवं घुटनों के दर्द से राहत दिलाता है।

गर्भवती स्त्रियों के लिए है रामबाण [Jaggery for Pregnant Ladies]

Good-for-pregnent-lady

बता दें कि यदि आपके शरीर में हेमोग्लोबिन की मात्रा में कमी है तो गुड़ खाना आपके लिए बेहद लाभदायक साबित हो सकता है। अधिकतर डॉक्टर्स गर्भवती महिलाओं को गुड़ खाने की सलाह देते हैं।  शायद यही वजह है जो प्रसव के बाद महिलाओं को गुड़ खाने की परंपरा बनाई गई है। बता दें, ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से एनीमिया की कमी को ठीक किया जा सकता है।

ब्लड प्रेशर को रखे कंट्रोल में

इसके अलावा आपको यह भी बता दें कि आज के बिगड़ते खान-पान और लाइफस्टाइल की आदतों के चलते तकरीबन ज़्यादातर लोगों के लिए ब्लड प्रेशर का घटना और बढ़ना आम बात हो गया है। ऐसे में आयुर्वेद विशेषज्ञों की मानें तो गुड़ ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने का रामबाण तरीका है। शायद यही वजह है कि जो लोग हाई ब्लड प्रेशर के मरीज होते हैं डॉक्टर भी उन्हें किसी अन्य तरह का मीठा पदार्थ खाने की बजाय गुड़ खाने की सलाह देते हैं। इससे उनके स्वास्थ्य पर कोई बुरा असर भी नहीं पड़ता और मीठे का स्वाद भी मिल जाया करता है।

खांसी को करे दूर [Jaggery for Cough]

jaggrey-for-cough

आपको बता दें कि सूखी खांसी काफी तकलीफदेह होती है। यदि आप भी इस खांसी की पीड़ा से ग्रसित हैं तो ऐसे में आपके लिए गुड़ किसी चमत्कार से कम नहीं होगा। शायद आपको इस बात की जानकारी नहीं होगी कि इस तरह की स्थिति में गुड़ का सेवन आपके सेहत के लिए बेहद ही लाभकारी साबित हो सकता है। आमतौर पर यह भी देखा गया है कि खांसी की शिकायत वाले मरीजों को चीनी की जगह अधिक से अधिक गुड़ का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इससे गले की खराश और खांसी दोनों में राहत मिलती है। आप यह भी कह सकते हैं कि गुड़ ना सिर्फ एक मीठा पदार्थ है बल्कि यह कई सारे गुणों का खान भी है, साथ ही साथ ढेर सारे रोगों का एक जबरदस्त देसी इलाज भी है।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments