मधुमेह एक ऐसी गंभीर बीमारी है मधुमेह में रोगी के ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा जरूरत से ज्यादा हो जाती है। भारत में सबसे ज्यादा मधुमेह के रोगी पाए जाते है। भारत में लगभग पांचवा व्यक्ति शुगर की बीमारी से पीड़ित है। यह बहुत गंभीर है इस बीमारी के कारण रोगी को हार्ट अटैक, आँखो का चला जाना, किडनी का फ़ैल होना और स्ट्रोक भी आ सकता है। इस बीमारी को लेकर भारत में अवेयरनेस बहुत कम है। भारत में बहुत से लोगो को मधुमेह की बीमारी का तब पता चलता है। जब उसकी वजह से उनके शरीर में काफी नुकसान हो चूका होता है। इसलिए आज हम इस लेख में आपको मधुमेह के लक्षण के बारे में बताने जा रहे है।

मधुमेह ज्यादातर दो कारणो से होता है।

1. शरीर पर्याप्त मात्रा में इन्सुलिन पैदा नहीं कर रहा हो।
2. आपके सेल्स बन रही हो लेकिन इन्सुलिन पर रियेक्ट नहीं कर रही हो।

मधुमेह के लक्षण (Diabetes Symptoms in Hindi)

1. थकान और भूख  – हम जो खाना खाते है हमारा शरीर उसे ग्लूकोज में बदलता है। जिसे हमारे शरीर के सेल ऊर्जा के रूप में उपयोग करते है। लेकिन सेल को ग्लूकोज को अंदर लाने के लिए इन्सुलिन की जरूरत होती है। यदि आपका शरीर पूरी तरह से इन्सुलिन नहीं बना पाता है। इसके कारण ग्लूकोज सेल में प्रवेश नहीं कर पाता। इसलिए मधुमेह के रोगी को सामान्य लोगो की अपेक्षा ज्यादा भूख लगती है और आपका शरीर थका हुआ महसूस करते है।

2. अधिक पेशाब और प्यास लगना – सामान्य लोग दिन में 7 से 8 बार पेशाब करने जाता है। यदि आप दिन में हर रोज इस से ज्यादा बार पेशाब करने जाते है। तो आपको मधुमेह हो सकता है। इसमें होता क्या है कि मधुमेह के कारण ब्लड में सुगर की मात्रा अधिक हो जाती है। ऐसा होने पर शरीर पेशाब के जरिये शुगर को बहार निकालती है। ऐसे में मधुमेह को बार बार प्यास भी लगती है।

3. खुजली होना – बार बार पेशाब करने से इसलिए हमारे शरीर में मॉइस्चर की कमी हो जाती है। ऐसा होने पर हमारे शरीर की त्वचा ड्राई हो जाती है। त्वचा में नमी की कमी त्वचा को ड्राई कर खुजली पैदा कर सकती है।

4. अचानक से वजन कम होना – यदि आपके शरीर का वजन अचानक से कम हो जाता है। तो ये मधुमेह का लक्षण हो सकता है। ये लक्षण ज्यादतर  मधुमेह टाइप एक में होते है। जब हमारी शरीर का सेल ग्लूकोज को एनर्जी के रूप में इस्तेमाल नहीं कर पाते। इसलिए ऊर्जा पाने के लिए फैट और मसल्स को burn  करने लग जाती है। इसके कारण हमारे शरीर का वजहं तेजी से कम होने जाता है।

5. घाव का नहीं भरना – मधुमेह के रोगी को अगर कोई चोट लग जाती है। तो उसका घाव भरने में सामान्य समय से ज्यादा समय लगता है।मधुमेह की वजह से खून में बढ़ी ग्लूकोज की मात्रा, धीरे धीरे शरीर के नसों को प्रभावित करने लग जाती है। इसके कारण चोट लगी हुई जगह पर ब्लड अच्छे से नहीं पहुंच पाता। इसलिए चोट को ठीक होने में ज्यादा समय लग जाता है।

6. मसूड़ो में घाव या सूजन – मधुमेह के रोगियों के शरीर की रोगाणुओ से लड़ने क्षमता कम हो जाती है। इसकी वजह से मसूड़ो और दातो को जकड़ने वाली हड्डियों में इन्फेक्शन हो जाता है। दांत ढीले पड़ने लग जाते है।

इस लेख में हम सिर्फ आपको जानकारी दे रहे है। ये लक्षण आपको किसी ओर वजह से भी हो सकती है। इसलिए अगर आपको इनमे से कोई भी लक्षण दिखे तो अपने डॉक्टर से चेकउप करवाए। इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे। ताकि वो लोग भी मधुमेह के बारे में जानकारी प्राप्त कर सके।

ये भी पढ़े: वजन कम करने के 5 देसी उपाय

प्रशांत यादव

Facebook Comments