दूध…..यानि वो संपूर्ण आहार जिसमें सभी ज़रूरी तत्व मौजूद होते हैं। तभी तो नवजात को जन्म से लेकर 6 महीने तक केवल दूध ही पिलाया जाता है। अनेकों गुणों से भरपूर दूध हर उम्र के शख्स के लिए बेहद ज़रूरी है। लेकिन दूध बच्चों के न्यूट्रीशन का एक ज़रूरी पार्ट है। दूध की महत्ता को देखते हुए ही हर साल 1 जून को वर्ल्ड मिल्क डे मनाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दूध भी अनेकों प्रकार का होता है। क्या आपने कभी A1 और A2 दूध के बारे में सुना है? दोनों में आखिर क्या फर्क है? किस दूध की क्या खासियत और क्या फायदे हैं? और दोनों में से आपके लिए कौन सा दूध ज्यादा बेहतर है? इस दूध से जु़ड़ी पूरी जानकारी हम आपको दे रहे हैं। 

क्या होता है A1 और मिल्क What is A1 Milk? 

दूध में दो प्रकार के प्रोटीन होते हैं: वेह (whey) प्रोटीन और केसीन (casein) प्रोटीन। केसीन प्रोटीन के भी दो प्रकार हैं।  अल्फा केसीन और बीटा केसीन। लेकिन ये बीटा केसीन भी दो रूपों में पाया जाता है। एक A1 मिल्क और दूसरा A2 मिल्क। हालांकि इन दोनों में से कौन सा दूध सबसे ज्यादा अच्छा है इस पर हाल ही में काफी चर्चा हुई और तभी से इस बात को लेकर बहस ने और भी ज़ोर पकड़ लिया है।  A1 मिल्क A1 टाइप की गाय देती हैं और A2 मिल्क A2 किस्म की गाय देती हैं। अगर मेजोरिटी की बात करें तो भारत समेत दुनिया के बाकी देशों में भी A1 दूध को ही पीया जा रहा है क्योंकि A2 दूध की खपत कम होती है। A2 दूध मिलता है देसी गाय से या फिर प्राचीन ब्रीड की गायों से। ऐसी गायों से मिलने वाले दूध को A2 दूध का नाम दिया गया है। ये बेहद सीमित मात्रा में हैं इसलिए इस दूध की उपलब्धता भी बेहद कम है। वहीं इसके विपरीत A1 गाय भारत में सबसे ज्यादा पाई जाती हैं, बाहर के देशों में भी अधिकतर ये ही गाय मिलती हैं, इन्हें हाइब्रिड गाय भी कहा जाता है। चूंकि ये गाय भारी मात्रा में है इसलिए A1 टाइप मिल्क की भी कोई कमी नहीं है। 

क्यों खास है A2 मिल्क What is A2 Milk

दूध में कैल्शियम और प्रोटीन का भंडार होता है और प्रोटीन कई प्रकार के होते हैं उन्हीं में से एक प्रोटीन है  केसीन। जिसकी दूध में मात्रा तकरीबन 80 फीसदी होती है। लेकिन रिसर्च में ये सामने आया है कि देसी गाय जो A2 दूध देती हैं उसमें केसीन प्रोटीन के साथ-साथ एक बेहद ही खास अमीनो एसिड भी निकलता है जिसे हम प्रोलीन (prolin) कहते हैं। माना गया है कि ये प्रोलीन नामक अमीनो एसिड हमारी सेहत के लिए बेहद ही महत्वपूर्ण है। और चूंकि ये केवल A2 मिल्क में ही उपलब्ध है लिहाज़ा A2 दूध A1 मिल्क से ज्यादा अच्छा माना जाता है। सामने आया है कि A2 दूध में मौजूद प्रोलीन हमारी बॉडी में BCM 7 को पहुंचने से रोकता है। चलिए अब आपको बताते हैं कि  BCM 7 है क्या ?

क्या है  BCM 7 What is BCM 7 ?

BCM 7 यानि Beta- Casomorphin-7….ये एक ओपीओइड पेप्टाइड (opioid peptide) है। जो ऐसा प्रोटीन है जो हमारी बॉडी में पचता नहीं है। लिहाज़ा ये शरीर में अपच होने का कारण बनता है। यानि इसके शरीर में पहुंचने से कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन A2 में मौजूद प्रोलीन इस BCM 7 को हमारे शरीर में पहुंचने से रोकता है। जबकि A1 गाय प्रोलीन नहीं बनाती जिससे  BCM 7 हमारे शरीर में पहुंच जाता है।यहीं कारण है कि A1 दूध का पचना मुश्किल हो जाता है। 

BCM 7 के नुकसान

-BCM 7 युक्त दूध से बच्चों में मधुमेह की समस्या बढ़ने की पूरी संभावना है।

-जांच में पाया गया है कि इस प्रकार के दूध से दिल संबंधी बीमारियों का ख़तरा भी बढ़ जाता है। 

हालांकि ये कहना गलत ही होगा कि ये दूध पीने योग्य नहीं है क्योंकि कई बार इस तरह की रिसर्च भी हुई हैं जिनमें ये सामने आया है कि इस दूध को पीने से शरीर में किसी तरह का नुकसान नहीं होगा। ऐसे में दूध नुकसानदायक है या नहीं ये कहना जल्दबाज़ी होगी।

 

Facebook Comments