Folic Acid ke Fayde: एक कृत्रिम रूप से निर्मित रसायन होता है, जिसका प्रयोद फोलेट की कमी को पूरा करने में किया जाता है। ये एक पानी में घुलनशील विटामिन है, जिसे विटामिन B9 भी कहते हैं। फोलेट और फोलिक एसिड दोनों ही पानी में घुलनशील विटामिन बी होता है और फोलेट प्राकृतिक रूप से भोजन में पाया जाता है। ये शरीर को स्वस्थ रखने और नई कोशिकाओं के निर्माण में मदद करने के लिए होता है। यहां हम आपको folic acid ke fayde और इसके साइड इफेक्ट्स के बारे में बताने जा रहे हैं।

फॉलिक एसिड (Folic Acid) क्या है ?

फोलिक एसिड, विटामिन बी9 का एक स्थाई भार कृत्रिम के रूप में होता है। ये स्वाभावित रूप से भोजन में नहीं लेकिन संसधित खाद्य पदार्थों में शामिल होता है। इस एसिड का प्रयोग मल्टीविटामिन खनिज सप्लीमेंट्स में होता है, हालांकि शरीर द्वारा इसका प्रयोग करने से पहले फोलिक एसिड को सक्रिय विटामिन बी9 में बदलने की प्रक्रिया को चार-चरण में बांटा जााता है और इसके लिए कई प्रकार के एंजाइमों की जरूरत होती है। इन एंजाइमों में से MTHFR (Methylenetetrahydrofolate reductase) एक प्रमुख एंजाइम होता है।

Folic Acid ke Fayde
news18.com

कुछ व्यक्तियों में अनुवांशिक उत्परिवर्तन पाया जाता है जिसके कारण उनके एमटीएचएफआर एंजाइम, फोलिक एसिड को 5-MTHF (5 methyltetrahydrofolate) में परिवर्तित करने के लिए कम प्रभावी होता है। जिसके परिणामस्वरुप रक्त में फोलिक एसिड की मात्रा बढ़ती है, इस स्थिति में कुछ लोगों में खराब प्रतिरक्षा प्रणाली, मस्तिष्क के कामों में कमी आने लगती है और अगर कैंसर की शुरुआत है तो इसमें वृद्धि होने लगती है। फोलिक एसिड का उपयोग आमतौर पर फोलेट की कमी (folate deficiency) में होता है और इसका इलाज इसके द्वारा संभव हो जाता है।

फॉलिक एसिड खाने के फायदे (Folic Acid ke fayde)

  • कोलन कैंसर (colon cancer) को रोकने में।
  • एसोफैगल कैंसर (Esophageal cancer) के खतरे को कम करने के लिए।
  • गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर (cervical cancer) की रोकथाम में।
  • दिल की बीमारी (heart disease) और स्ट्रोक (stroke) के खतरे को कम करने के लिए।
  • स्मृति हानि (memory loss) को रोकने में भी।
  • फोलिक एसिड और जिंक सल्फेट की उचित मात्रा का सेवन हर दिन करने से पुरुषों में कम शुक्राणुओं से संबन्धित समस्या भी दूर हो जाती है।
  • त्वचा कैंसर जिसे मेलेनोमा के नाम से भी जाना जाता है, इसके खतरे को फोलिक एसिड की मदद से कम किया जाता है।
  • अल्जाइमर रोग (Alzheimer’s disease) के इलाज के दौरान।
  • उम्र से संबंधित श्रवण हानि को रोकने में इसका उपयोग।
  • उम्र बढ़ने के संकेतों को कम करने के लिए भी इसका उपयोग।
  • स्तन कैंसर (Breast cancer) के खतरे को भी कम किया जा सकता है।
  • मधुमेह (Diabetes) में राहत पाने के लिए।
  • कमजोर हड्डियों (osteoporosis) के इलाज में इसका प्रयोग।
  • नींद से सम्बंधित समस्याओं में सुधार आती है।
  • अवसाद (depression) की समस्या में।
  • उच्च रक्तचाप वाले व्यक्तियों में रक्तचाप को कम करने के लिए।
  • तंत्रिका दर्द (nerve pain) में राहत पाने के लिए।
  • मोतियाबिंद (Cataracts) के जोखिम को कम करने में।
  • मांसपेशी दर्द (muscle pain) में राहत प्राप्त करने के लिए।
  • त्वचा रोग (skin disease) से संबन्धित लक्षणों में सुधार करने में।
  • एड्स (AIDS) से संबन्धित समस्याओं को कम करने के लिए।
  • गाउट (gout) के खतरे को कम करने के लिए।
  • आयरन की खुराक के साथ फोलिक एसिड की खुराक का सेवन करने से आयरन की कमी का तेजी से इलाज करने में इसका प्रयोग।
  • मेथोट्रैक्सेट (methotrexate) दवाओं के हानिकारक साइड इफेक्ट्स को भी कम करता है।
  • फोलिक एसिड का प्रयोग होमोसिस्टीन (homocysteine) नाम की रसायन के रक्त स्तर को कम करने के लिए भी होता है।
  • उच्च होमोसिस्टीन स्तर (High homocysteine levels) के कारण दिल की बीमारी का खतरा बढ़ने से रोकने के लिए।

फोलिक एसिड के साइड इफेक्ट्स (Folic Acid Side Effects)

Folic Acid ke fayde
Image Source – Pixnio

मुंह के जरिए दवा के रूप में या इंजेक्शन के रूप में ली जाने वाली फॉलिक एसिड पूरी तरह से सुरक्षित होता है। 1000 मिलीग्राम से कम नियमित खुराक के रूप में उपयोग किया जाने वाला फॉरिक एसिड ज्यादातर वयस्कों को किसी भी प्रकार के दुष्प्रभावों का अनुभव नहीं होने देता है। लंबे समय तक ज्यादा मात्रा में सेवन किए जाने पर फॉलिक एसिड के नुकसान भी देखने को मिलते हैं। फॉलिक एसिड की उच्च खुराक से इसके साइड इफैक्ट्स भी आपको देखने को मिल सकते हैं।

  • पेट मे ऐंठन हो जाना।
  • पेट की परेशानी होना।
  • दस्त होना।
  • मतली का होना।
  • नींद संबंधी विकार का होना।
  • गैस की समस्या हो जाना।
  • चिड़चिड़ापन होना।
  • भ्रम होना।
  • व्यवहार में परिवर्तन आना।
  • त्वचा संबंधी समस्याएं होना।
  • किसी भी तरह का दौरा पड़ना।

यह भी पढ़े

इसके अलावा फोलिक एसिड (Folic Acid) का सेवन करने से पहले आपको इसके साइड इफेक्ट्स (Folic Acid ke Side Effects) और सावधानियों के बारे में जानकर ही सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से पहले आपको एक बार डॉ. से जरूर सलाह लेनी चाहिए।

Facebook Comments