Gehu ke Jaware ke Fayde: गेहूं के जवारे को उगाने के लिए आम गेहूं का उपयोग किया जाता है। कई सालो से गेहूं के जवारे को एक शक्तिशाली पेय के रूप में जाना गया है। यह कई खनिज, विटामिन और जिगर एंजाइमों का एक बड़ा स्रोत है। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, के और बी पायी जाती है। यह पेय पोटेशियम, आहार फाइबर, थायामिन, लोहा, जस्ता, तांबे, मैंगनीज और सेलेनियम से भरपूर है।

इसका उपयोग हेमोग्लोबिन का उत्पादन बढ़ाने, दांत क्षय को रोकने, रक्त शर्करा विकारों में सुधार लाने, तेजी से घाव भरने के लिए किया जाता है। बहुत से लोग इसका उपयोग पाचन में सुधार लाने के लिए और बालों को भूरे होने से रोकने के लिए भी करते है।

gehu ke jaware ke fayde

गेहूं के गवारे के फायदे (Gehu ke Jaware Ke Fayde)

पाचन में सुधार: गेहूं के जवारे का रस पीने से पाचन किर्या ठीक हो जाती है। क्युकी इस जवारे के रस में एंजाइम, अमीनो एसिड और विटामिन बी होता है। जिसकी वजह से पाचन विकारों को दूर करता है। यह पेय अल्सर, चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम, ईर्ष्या को दूर करने में भी काफी मदद करता है।

कैंसर को रोकने में मदद: इस पेय के पीने से खून साफ होता है। रक्त ऑक्सीजनेटिंग की क्षमता के कारण कैंसर से बचा जा सकता है।

बालों का स्वास्थ्य: इस रस में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट बालों को सफेद होने से रोकने में मदद करता है। यह सूखे बालों के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

तनाव कम करने में: गेहूं के जवारे में मौजूद विटामिन चिंता को दूर करने और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करने में काफी मदद करते है।

वजन घटाने के लिए: इस रस के पीने से आपके शरीर का वजन काम हो जाएगा। यह थायरॉयड ग्रंथि के प्रबंधन से वजन कम करता है।

कामेच्छा बढ़ाने में मदद करना: इसमें मौजूद पी 4 डी 1 कम्पौंड शुक्राणुओं की संख्या और प्रजनन क्षमता में वृद्धि कर देता है।

त्वचा रोग और घावों का इलाज: गेहूं के जवारे से त्वचा से जुड़े कई रोगो का इलाज किया जाता है। यह त्वचा की कोशिकाओं को जल्दी से पुनर्जीवित करके त्वचा के घावों का इलाज कर सकता है।

गेहूं के जवारे के नुकसान (Gehu ke Jaware ke Nuksaan)

इस पेय को वैसे तो सुरक्षित माना जाता है। गेहूं का ज्वारा बहुत शक्तिशाली होता है। बहुत से लोगो को इस पेय को पीने से जी मिचलाना, सरदर्द, दस्त, चक्कर आना और थकान महसूस होने लगती है।

गेहूं के जवारे को बनाने का तरीका (How to Make Wheatgrass Juice)

आप गेहूं के जवारे के पत्ते को चबा कर खा सकते है या फिर रस निकाल कर पी सकते है। आइये जानते है, गेहूं के जवारे का रस कैसे बना सकते है।

  • सबसे पहले गेहूं के जवारे की पत्तिया जड़ से काट ले और फिर उन्हें अच्छे से धो ले।
  • इन पत्तियों को अच्छे से कूट ले और इसके बाद एक साफ कपडे में डाल कर रस निकाल ले।
  • रस निकालने के तुरंत बाद इसको पी ले और एक बात का ध्यान रखे इसको चाय की तरह सीप सीप करके ही पिए, इसको एक बार नहीं पीना है।
  • इस रस में आप थोड़ा पानी मिला सकते है। ध्यान रहे निम्बू और नमक बिलकुल भी न डालें।
Facebook Comments