दोस्तों आज के जमाने में हम लोग जानते ही हैं कि हर दूसरा इंसान किसी ना किसी बीमारी से ग्रस्त है और यह बीमारियां हैं। जैसे शुगर हाई बीपी लो बीपी ऐसी कुछ बीमारियां सांस लेने में प्रॉब्लम और इत्यादि आज हम आपको बताएंगे कि हाई बीपी से आप कैसे निजात पा सकते हैं। और आप इस पर कैसे नियंत्रण रख सकते हैं। अगर आप यह जानना चाहते हैं कि उच्च रक्तचाप यानी कि हाई बीपी को कैसे नियंत्रण में रखना है? तो आप नीचे अच्छी तरह समझें और पढ़ें। जिससे आपको यह पता लग जाएगा कि आप हाई बीपी से कैसे निजात पा सकते हैं जिससे अगर आप की किसी दोस्त, भाई-बहन, पिता-माता या परिवार में किसी को भी हाई बीपी की दिक्कत है तो आप उसकी मदद कर सकते हैं। हाई बीपी से ग्रस्त लोग हमेशा दिक्कत में रहते हैं। क्योंकि हाई बीपी होने से इंसान बहुत गुस्से में आ जाता है। और पता नहीं क्या-क्या कर बैठता है जैसे छोटी सी छोटी बात पर गुस्सा हो जाना और अपने गुस्से पर काबू ना पा पाना।

manage high blood pressure
jetbuy

किसी भी बड़ी मुसीबत से ना लड़ पाना। तो चलिए देखते हैं की हाई बीपी से यानी उच्च रक्तचाप से कैसे निजात पाई जा सकती है।

हाई बीपी होने से शरीर का ब्लड सरकुलेशन सही रूप से नहीं हो पाता है। फिर इससे शरीर दूसरी बीमारियों की जकड़ में आराम से आ जाता है। उच्च रक्तचाप हमारे शरीर को खतरनाक संकट में डाल रहा है। उच्च रक्तचाप यानी हाई बीपी उसको कहा जाता है। जब शरीर नसों की दीवारों पर नॉरमल से ज्यादा दबाव हो जाता है। एक रिपोर्ट की मानें तो (WHO) डब्ल्यूएचओ ने यह सर्वे करके बताया कि हाई बीपी से दुनिया भर में 7.4 मिलियन लोग मौत के शिकार हुए हैं। इसलिए हाई बीपी 1 आम बीमारी नहीं है। इसको हमें आम बीमारी समझने की भूल नहीं करनी चाहिए। नहीं तो यह हमारे लिए जानलेवा हो सकती है। हम आपको बता दें कि अगर आपको जानना है कि क्या आप का बीपी हाई है ?

इंसान का नॉर्मल बीपी कितना होता है ?

तो आप यह डॉक्टर के पास जाकर चेक करा सकते हैं वैसे हम आपको बता दें कि एक नॉरमल इंसान का बीपी कितना होता है। तो वह है 130/80mmhg।
लेकिन अगर आपका ब्लड प्रेशर इससे ज्यादा है तो आपको डॉक्टर से सलाह मशवरा करना चाहिए।
अगर आपका बीपी नियंत्रण में नहीं होता है तो हो सकता है कि आपको दिल का दौरा(हॉट अटैक)आ जाए। जो कि एक बहुत ही बड़ी मुसीबत हो सकती है आपके लिए।

manage high blood pressure
Daily Express

दिल के दौरे से बचने के लिए और बीपी को नियंत्रण में रखने के लिए डॉक्टर सलाह देते हैं कि हमको एक संतुलित भोजन यानी अच्छी डाइट लेनी चाहिए। जिससे हमारे शरीर का बीपी यानी उच्च रक्तचाप नियंत्रण में रहे और हम अपना हर काम संतुलन के साथ कर पाए। डॉक्टर हमेशा बीपी से ग्रस्त मरीज को यह सलाह देते हैं कि वह नमकिनी चीज का सेवन कम करें और नमक पर नियंत्रण बनाएं। असल में डॉक्टर नमकीन इन चीजों से परहेज करने को सलाह इसलिए देते हैं क्योंकि इसमें सोडियम से शरीर मे पानी की मात्रा को ज्यादा करता है। इसलिए आज हम आपको बताते हैं कि कैसे बीपी को नियंत्रण किया जा सकता है। कैसे इस बीमारी से निजात पाई जा सकती है तो चलिए देखते हैं:-

हम आपको बता दें कि उच्च रक्तचाप से बचने के लिए मरीज को अपने खान-पान का ध्यान देना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि हाई बीपी के मरीजों को दिल का दौरा और किडनी में दिक्कत हो सकती है। वैसे हम आपको बता दें कि उच्च रक्तचाप की बीमारी ऐसी बीमारी है कि एक बार अगर इंसान को पकड़ ले तो लोगों की जिंदगी बीत जाती है पर वह इससे निजात नहीं पा पाते। मात्र गोलियों का सेवन करने ही उन लोगों के पास एक सलाह रह जाती है।

उच्च रक्तचाप पर नियंत्रण करने के लिए :-

चलिए हम आपको बताते हैं कि उच्च रक्तचाप पर नियंत्रण करने के लिए आपको दही का सेवन करना चाहिए। ऐसे ही ग्रीक योगर्ट और हंग कर्ड भी एक अच्छा सोर्स है। उच्च रक्तचाप से शरीर को बचाए रखने के लिए। योगर्ट पोटैशियम का भी एक अच्छा सोर्स बताया जाता है वैसे हम आपको बताएं कि यह चीज मशहूर न्यूट्रीशनिस्ट शिल्पा अरोड़ा के अनुसार पोटेशियम आहार बीपी बढ़ाने में पाया जाता है।

इसलिए जब आपके शरीर का बीपी कम हो तो आपको गाजर, आलू, संतरा, केला इन सब का सेवन करना चाहिए। क्योंकि यह पोटैशियम का अच्छा सोर्स है इससे आपका बीपी नॉर्मल हो जाएगा।

बीपी यानी उच्च रक्तचाप को नियंत्रण करने के लिए पोटैशियम एक अच्छा और लाभदायक तरीका है। क्योंकि पोटैशियम हमारे शरीर में बढ़ रहे सोडियम को भी कम कर देता है। जिससे हमारा रक्तचाप नियंत्रण में आ जाता है और हम नॉरमल हो जाते हैं। क्योंकि हाई बीपी के दौरान हमारे शरीर मैं नसों के ऊपर सोडियम बहुत ज्यादा दबाव बनाता है।

हाई बीपी वाले इंसान को हमेशा ज्यादा सोचना नहीं चाहिए और ज्यादा दिमाग पर बोझ नहीं डालना चाहिए और खुलकर जिंदगी जिनि चाहिए।

उच्च रक्तचाप के मरीजों को ज्यादा से ज्यादा घूमना और टहलना चाहिए। जिससे कि उनका दिमाग किसी चीज को सोचने में ना लगे और उनका दिमाग चुस्त रहे जिससे उनके शरीर संतुलित रहे।

उच्च रक्तचाप वाले व्यक्तियों को बताया जाता है कि उनको तेल और मसाले वाली चीजों से परहेज करना चाहिए।

निष्कर्ष:

दोस्तों उच्च रक्तचाप जाने की हाई बीपी एक सामान्य बीमारी नहीं है। यह हमारी आम जिंदगी पर बहुत असर डालती है। इसलिए हमको इतना पता होना चाहिए कि हाई बीपी को हम कैसे नियंत्रण में कर सकते हैं। जिससे कि हम अपना और अपने भाई बंधुओं का जरूरत पड़ने पर ख्याल व मदद कर सकें।

Facebook Comments