Coronavirus: इस वायरस की चपेट से जो देश सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है वो अमेरिका हैै। अमेरिका में अब तक लगभग 5.50 लाख लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है। इस समय सभी वैज्ञानिक कोरोना वायरस का एंटीडोट बनाने के प्रयासों में लगे हैं। इस वायरस से निपटने के लिए अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारी दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। ऐसे में अमेरिका के एख वैज्ञानिक ने दावा किया है कि उन्होंने एक ऐसा सॉफ्टवेयर का आविष्कार किया है जिससे कोरोना वायरस की पहचान चंद मिनटों में की जा सकेती है।

Coronavirus – एआई की मदद से बनाया कोड

this software will tell are you Coronavirus positive or not
AajTak

जी हां, यूनिवर्सिटी ऑफ डेटॉन रिसर्च इंस्टिट्यूट के एक वैज्ञानिक बराथ नारायणन ने दावा किया है कि उन्होंने एक ऐसा सॉफ्टवेयर कोड विकसित किया है जिससे शरीर के अंदर कोरोना वायरस है या नहीं, इसका पता आसानी से लगाया जा सकता है। नारायणन ने बताया कि यह सॉफ्टवेयर कोड इंसान की छाती को स्कैन करके पता लगा सकता है कि शरीर में वायरस कहां छिपा है। इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी बताया है कि ये महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर, एक्स-रे से एकदम जुदा है। यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक से काम करता है जिसका परिणां 98 प्रतिशत तक सही हो सकता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नारायणन पिछले काफी वर्षों से आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तकनीक पर काम करते आ रहे हैं। वह बीमारी का पता लगाने वाली कई मशीने बना चुके हैं। वे काफी समय से एआई की मदद से सॉफ्टवेयर बना रहे हैं जिससे डॉक्टर्स को मरीज़ की बीमारी का जल्द से जल्द पता लग सके और इलाज में देरी न हो।

इन बीमारियों के लिए बनाए सॉफ्टवेयर कोड Coronavirus

this software will tell are you Coronavirus positive or not
AajTak

नारायणन काफी समय से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक्सपर्ट हैं और वह इससे पहले भी कई बड़ी बीमारियों के लिए सॉफ्टवेयर कोड बना चुके हैं। उन्होंने ब्रेस्ट कैंसर, मलेरिया, ब्रेन ट्यूमर, टीबी, निमोनिया और डायबिटीज़ जैसी बीमारिंयों का जल्द पता लगाने के लिए सॉफ्टवेयर कोड्स का आविष्कार किया है। उनके द्वारा बनाए गए इन कोड्स के परिणाम की बात करें तो वह 98 प्रतिशत तक सही निकलते हैं।

यह भी पढ़े प्लाज्मा थैरेपी से अब भारत में होगा कोरोना का इलाज, ICMR ने दी मंजूरी

कल देश को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री

अमेरिका के बाद अब कोरोना वायरस ने भारत में तेज़ी से फैलना शुरू कर दिया है। भारत में अब तक 9152 मामले सामने आ चुके हैं। इस वायरस के कारण मरने वालों की संख्या 796 पहुंच गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल यानी 14 अप्रैल को सुबह 10 बजे देश को संबोधित करेंगे। बताया जा रहा है कि मोदी लॉकडाउन बढ़ाने पर कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं।

Facebook Comments