Kali Mirch ke Fayde: खाने को तीखा लेकिन लाल व हरी मिर्च से कुछ अलग टेस्ट देने वाली काली मिर्च सभी को पसंद आती है। पाचन तंत्र को सुधारने से लेकर भूख बढ़ाने तक काली मिर्च की खूबियां ही इतनी है कि लोग इन्हे लाल व हरी मिर्च से ज्यादा पसंद करते हैं…..खास व्यंजनों के टेस्ट में खास इज़ाफा करने के लिए काली मिर्च का इस्तेमाल किया जाता है। दक्षिण भारत में उगाए जाने वाले खास मसालों में से काली मिर्च एक है। भारत में काली मिर्च की खेती बड़े पैमाने पर होती है और यहां से दूसरे देशों में काली मिर्च निर्यात भी की जाती है।

सलाद, शिकंजी व सैंडविच से लेकर हर खाने के स्वाद को दुगना कर देती है काली मिर्च। लेकिन स्वास्थ्य के नज़रिए से भी काली मिर्च काफी फायदेमंद मानी जाती है। इन छोटी सी काली मिर्च के फायदे (Black Pepper Benefits) अनेक हैं जिन्हे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। लिहाज़ा अब हम आपको काली मिर्च के फायदे गिनाएंगे। लेकिन पहले आपको बताते हैं कि काली मिर्च का सेवन आप कैसे-कैसे कर सकते हैं।

  • घर पर सलाद, शिकंजी में काली मिर्च पाउडर मिलाया जा सकता है।
  • अगर नॉन वेज खाते हैं तो कच्चे मांस पर काली मिर्च छिड़ककर इसे पकाया जा सकता है।
  • ऑमलेट या कच्चे पनीर पर काली मिर्च पाउडर छिड़ककर खाया जा सकता है।

काली मिर्च के फायदे (Black Pepper in Hindi)

kali mirch ke fayde
haribhoomi

1. पाचन शक्ति को करती है मजबूत

काली मिर्च आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाती है। खाना अच्छे से पचता है तो आपके शरीर को पोषक तत्व भी अच्छे से मिलते हैं जिसका सकारात्मक असर आपकी सेहत पर पड़ता है।

2. सर्दी-खांसी से बचाव

सर्दी के मौसम में काली मिर्च का सेवन काफी फायदेमंद माना गया है। इससे आप सर्दी के मौसम में खांसी और जुकाम से बचे रह सकते हैं। शहद में थोडी सा काली मिर्च का पाउडर मिलाइए और इसका सेवन करें। आप सर्दी के मौसम में खांसी-जुकाम से बचे रहेंगे।

3. भूख बढ़ाती है काली मिर्च

अगर आपको भूख कम लगती है तो यकीनन काली मिर्च आपकी इस समस्या का हल है। क्योंकि रिसर्च में ये बात सामने आई है कि काली मिर्च की सुगंध भूख को बढ़ाती है। आधी चम्मच काली मिर्च और गुड़ के पाउडर का एक मिश्रण रोज़ाना खाने से आपकी भूख जल्द बढ़ने लगेगी।

4. वज़न भी कम करती है काली मिर्च

अब आप सोच रहे होंगे कि भला भूख में इज़ाफा करने वाली काली मिर्च वज़न कैसे कम कर सकती है लेकिन ये सच है। दरअसल, काली मिर्च की बाहरी परत में फयटोनुट्रिएंट्स होते हैं जो वसा को जमने से रोकते हैं जिससे वज़न नहीं बढ़ता।

5. गैस, एसिडिटी से दिलाए निजात

अगर आप गैस व एसिडिटी की समस्या से अक्सर परेशान रहते हैं तो आपको काली मिर्च का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। आप रोज़ाना छाछ में काली मिर्च पाउडर व भुना जीरा डालकर पीएंगे तो गैस की दिक्कत से आपको जल्द ही छुटकारा मिल जाएगा।

6. गठिया दर्द में आराम देती है काली मिर्च

कई लोग गठिया के दर्द से काफी परेशान होते हैं। कई बार तो ये दर्द असहनीय हो जाता है। ऐसे में दर्ज से काली मिर्च आपको निजात दिला सकती है। काली मिर्च का तेल जिस जगह पर दर्द हो वहां लगाने से तुरंत ही आराम मिलता है।

7. दांत व मसूड़ों की दिक्कत में सहायक

काली मिर्च हर तरह के दर्द व सूजन को कम करने में सहायक है। खासतौर से दांतों व मसूड़ों की परेशानी में ये राहत पहुंचाती है। पानी की कुछ बूंदों में नमक और काली मिर्च दोनों को बराबर मात्रा में मिलाकर मसूड़ों पर मालिश करने से दर्द में काफी आराम मिलता है।

8. कैंसर से बचाव

आप जानकर शायद हैरान हो जाएं कि ये छोटी सी काली मिर्च कैंसर जैसी संभावनाओं को भी काफी हद तक कम करती है। एक रिसर्च में ये सामने आया है कि काली मिर्च में मौजूद पाइपरिन कई तरह के कैंसर को रोकता है। यानि अगर इसका सेवन रोज़ाना किया जाए तो कैंसर की संभावनाओं को काफी हद तक टाला जा सकता है।

kali mirch
livehindustan

वहीं कुछ चीज़ों के फायदे होते हैं तो नुकसान भी होते हैं। लेकिन नुकसान तभी होते हैं जब हम ध्यान देने वाली बातों को नज़रअंदाज़ कर देते हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि हम काली मिर्च से जुड़ी बातों का खासतौर से ध्यान रखें।

  • काली मिर्च गर्म तासीर की होती है लिहाज़ा इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करें अन्यथा फायदे की बजाय नुकसान उठाना पड़ सकता है।
  • काली मिर्च खाने के बाद नाक में खून की शिकायत हो तो इसका सेवन बंद कर देना चाहिए।
  • कई बार काली मिर्च के सेवन स्किन में इंफेक्शन का कारण भी बन सकता है। हालांकि ऐसे मामले बेहद कम ही देखे जाते हैं।
  • गर्भावस्था के दौरान काली मिर्च के सेवन से बचना चाहिए।
Facebook Comments