Mahua ke Fayde: सामान्य सा दिखने वाला महुवा आयुर्वेदिक रूप से हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना ज्यादा फायदेमंद होता है इसके बारे में बहुत कम ही लोगों को पता होगा। आमतौर पर ज्यादातर लोग यही जानते हैं कि महुवा का इस्तेमाल शराब बनाने के प्रयोग में लाया जाता है, मगर आज हम आपको इसके उन तमाम फायदों के बारे में बताएंगे जिससे आप अभी तक अनजान थे। साथ ही साथ हम आपको इसकी वजह से होने वाले कुछ नुकसानों से भी अवगत कराएंगे। तो चलिए जानते हैं महुवा के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से।

सबसे पहले तो आपको यह बता दें कि महुआ के फायदे किसी औषधीय जड़ी बूटी से कम नहीं है। महुआ के फूल और बीज खाने योग्य हैं। महुआ का वैज्ञानिक नाम मधुका लांगिफोलिया है। महुआ एक बड़े आकार के बहुउद्देशीय वन पेड़ हैं जो भारत, नेपाल, श्रीलंका और अन्‍य दक्षिण एशियाई देशों के मिश्रित पर्णपाती जंगलों में पाए जाते हैं। इसके पेड़ के पत्ते, छाल, फूल, बीज की गिरी सभी औषधीय रूप में उपयोग की जाती है।  इसके पत्ते हथेली के आकार और बादाम के जैसे मोटे होते हैं। महुआ की लकड़ी बहुत वजनदार और मजबूत होती है। इसे खेत, खलिहानों, सड़कों के किनारों पर और बगीचों में छाया के लिए लगाया जाता है। महुआ में बहुत से पोषक तत्‍व होते हैं जिनके कारण यह त्‍वचा समस्‍याओं, आदि में फायदेमंद होता है।

महुआ के फायदे [Mahua ke Fayde]

mahua ke fayde
quora

मिर्गी का इलाज है महुआ

ऐसा बताया जाता है कि जब भी कभी किसी को मिर्गी का दौरा आ जाये तो उस दौरान उसे छोटी पीपल, बच, काली मिर्च, महुआ और पीसे हुए सेंधा नमक को पानी में मिलाकर नाक से लेना चाहिए।  इससे मिर्गी और वायु आदि रोगों में लाभ मिलता है।

सर्दी, खांसी व स्वास संबंधी बीमारी में रामबाण है महुआ के फूल

चूंकि महुआ के फूल की तासीर ठंडी होती है और तो और महुआ के फूल बेहद ही उत्तेजक, शांतिदायक, कृमिनाशक और कफ से राहत देने वाले होते हैं। ऐसे में इसे सर्दी, खांसी व अन्य तरह के स्वास संबंधी विकारों के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है।

गठिया रोगियों के लिए भी फायदेमंद

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आयुर्वेद के अनुसार महुआ पेड़ की छाल का उपयोग मानव स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही फायदेमंद मानी गयी है। गठिया के दर्द और सूजन को दूर करने के लिए आप महुआ की छाल का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप महुआ की छाल को पानी में उबाल कर एक काढ़ा तैयार करें और इसका सेवन करें। काफी लाभ मिलता है।

दांतों के लिए लाभकारी

जानकारी के लिए बता दें कि आपके स्वस्थ मसूड़ों और टॉन्सिलाइटिस के लिए महुआ को लाभकारी माना गया है। इसके इस्तेमाल के लिए महुआ के पेड़ की छाल से निकले 4 ml रस को 300 ml पानी में मिलाएं। यदि आपके मसूड़ों से खून निकलने की समस्या है तो इससे छुटकारा पाने के लिए आप इस मिश्रण से नियमित कुल्ला करें।

दाग धब्‍बे हटाए

बताना चाहेंगे कि अगर आपको दाग धब्बे हो गए हैं तो महुए के छाल का काढ़ा बनाकर इसे शरीर में दाग-धब्बों के ऊपर लगाने से दाग-धब्बों से छुटकारा मिलता है।

महुआ के नुक्सान [Mahua ke Nuksan]

mahua ke nuksan
bbc

हालांकि, महुआ के कई सारे फायदे तो हैं मगर इसके अलावा आपको यह भी बता दें कि इसके सेवन से कई तरह के दुष्प्रभाव भी हैं।

  •  बताना चाहेंगे कि अगर आप महुए के पुष्प का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो इससे आपको सिर दर्द की तकलीफ हो सकती है।
  • ऐसा भी बताया जाता है कि यदि आप नियमित रूप से महुआ का इस्तेमाल करते हैं तो इससे नपुंसकता और बांझपन भी बढ़ सकता है।
  • चूंकि, महुआ की प्रकृति लो ब्लड शुगर जैसी है इसलिए अगर आप मधुमेह के रोगी हैं तो ऐसे में इसका सेवन आपके स्वास्थ्य पर गहरा असर डाल सकता है।
  • इसके अलावा आपको यह भी बता दें कि जिन लोगों को कब्‍ज या उच्‍च कफ की समस्‍या होती है उन्‍हें महुआ से संबंधित उत्‍पादों का सेवन करने से बचना चाहिए।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।  

Facebook Comments