Covid 19: कोरोना महामारी ने हर इंसान को एक दूसरे से अलग कर दिया है। ना तो लोग इन दिनों किसी के घर जा रहे हैं ना आपस में कोई इमोशन शेयर कर रहे हैं। कोविड 19 से बचने के लिए लोग एक दूसरे से दूरी बरत रहे हैं। कुछ लोग इस समय का मुकाबला अच्छी तरह से कर रहे हैं जबकि कुछ लोगों के लिए ये समय काफी मुश्किल भरा है। कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा खतरा इन दिनों बुजुर्गों को है। इस समय उन्हें सुरक्षित रखना बेहद जरूरी है। लेकिन जब आप अपनी दादी से बहुत लंबे समय से दूर हैं और उनसे गले मिलना चाहते हैं, तो आपको बस संपर्क करने का एक तरीका खोजना होगा। इस शख्स ने अपनी दादी को गले लगाने के लिए एक बेहतरीन उपाय ढूँढा है। आइये आपको बताते हैं किस तकनीक से इस शख्स ने अपनी दादी को महीनों बाद गले लगाया।

दादी को गले लगाने के लिए अपनाया ये तरीका (Man Creates Cuddle Curtain to Hug his Grandma During Covid 19)

आपको बता दें कि, ब्रिटेन के रहने वाले एंटोनी कोविन ने अपनी दादी को गले लगाने के लिए बेहतरीन तकनीक अपनाया है। लॉकडाउन की वजह से कोविन काफी समय से अपने परिवार से दूर था। लेकिन जब वो घर लौटा तो अपनी दादी को गले लगाने की इच्छा हुई। चूँकि इस समय कोरोना वायरस की वजह से लोगों को एक दूसरे से अलग रहने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में कोविन को अपनी दादी लिली को गले लगाने के लिए प्लास्टिक का एक कडल कर्टेन बनाया। इस कर्टेन को अपनी दादी को पहनाने के बाद एंटोनी उनसे गले मिला। इन दिनों एंटोनी और उसकी दादी का ये वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। गौरतलब है कि, इस वीडियो को एंटोनी की वाइफ मरियम ने शूट किया था। वीडियो में एंटोनी और उसकी दादी एक दूसरे के गले मिल रहे हैं।

आनंद महिंद्रा ने की तारीफ़

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो को देखकर महिंद्रा ग्रुप के अध्यक्ष और देश के जाने माने उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने भी काफी तारीफ की है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, आनंद महिंद्रा ने इस शख्स की वीडियो को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए लिखा है “ इस उपकरण को किसी नोबेल प्राइज विनर ने नहीं बनाया है। लेकिन उन बुजुर्गों के लिए यह एक जीवन बदलने वाला एक्सपीरियंस है जो इस समय अपने परिवार वालों के आलिंगन को मिस कर रहे हैं। बिल्कुल उस वैक्सीन के समान है जिसका हम सभी को इंतज़ार है।” बता दें कि, इस कडल कर्टेन को बनाने वाले शख्स एंटोनी ने इस बारे में खुलासा किया है कि, ये कडल कर्टेन पूरी तरह से कीटाणु रहित है, जो भी इसका प्रयोग करना चाहते हैं उन्हें एक बार पहनने के बार इसे सैनीटाइज़ जरूर करना चाहिए। विशेष सुरक्षा के लिए लोगों को हैंड ग्लव्स भी पहनने चाहिए। एंटोनी ने बताया कि, फिलहाल उसने इस उपकरण को अपने दादा दादी के लिए रखा है ताकि वो इस समय में भी अपने पोते पोतियों से गले मिल सके।

Facebook Comments