Shami ka Paudha: हिंदू धर्म में प्राकृतिक के रूप में मौजूद हर चीज की मान्यता देवी देवताओं की तरह है। हिंदू धर्म में पंचतत्व में शामिल जल, अग्नि, वायु, धरती और आकाश की पूजा बेहद ही आस्था और विश्वास के साथ की जाती है। इन्हीं पंच तत्वों की तरह इस धरती पर मौजूद वनस्पतियों की भी पूजा की जाती है। ऐसी मान्यता है कि पृथ्वी पर मौजूद पेड़-पौधों की पूजा करने से हमारे जीवन के बुरे ग्रह-नक्षत्रों के प्रभाव खत्म हो जाते हैं। वेद और शास्त्रों में नवग्रहों से संबंधित पेड़-पौधों का भी जिक्र मिलता है।
इन्हीं पेड़ पौधों में से एक है शमी का पौधा जो वृक्ष का भी रूप ले लेता है। शमी के पौधे से शनिदेव का संबंध है। इस पौधे को हिंदू शास्त्रों के अनुसार एक बेहद ही चमत्कारी पौधा माना जाता है। इतना ही नहीं शमी वृक्ष की पूजा करने से घर में कभी लक्ष्मी की भी कमी नहीं होती है।
शमी का पौधा शनि देव को काफी प्रिया है और यही कारण है कि शमी की पूजा और सेवा करने से शनि के प्रभाव से होने वाले सभी संकटों और विपत्तियों का नाश होता है। इतना ही नहीं कुछ ऐसे टोटके भी हैं जिसे करने से जीवन में आने वाली कई सारी परेशानियों का नाश हो जाता है।

धन की प्राप्ति के लिए।

Shami ka ped
यदि आपके जीवन में धन का अभाव है। आपके प्रयासों के बावजूद भी घर में धन की कमी रहती है।खर्च अधिक होता है तो आप शनिवार के दिन सुबह-सुबह स्नान ध्यान करके एक शमी का पौधा किसी गमले या फिर जमीन में लगाएं। शमी के पौधे को रखने से पहले उसकी जड़ में एक सुपारी, 1 रुपए का सिक्का और थोड़ा गंगा जल अर्पित करके उसे लगा दें। इस पौधे को रोज सुबह जल अर्पित करें। शाम के वक्त इस पौधे के पास धूप-दीप जलाएं आप खुद महसूस करेंगे कि आप के जीवन से धीरे-धीरे धन का अभाव खत्म होने लगेगा और लक्ष्मी की कृपा बरसेगी।

शनि की साढ़े साती और ढैय्या को दूर करता है

shanidev
jagran
यदि आपकी कुंडली में शनि की साढ़ेसाती या ढैया चल रही है तो नियमित रूप से शमी की पूजा करें। रोज सुबह पौधे को जल अर्पित करें। शाम के समय दीपक जलाएं। इससे काफी हद तक शनि का प्रभाव कम हो जाता है यदि आप वाहन चलाते समय बार-बार दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं तो घर से निकलते वक्त शमी के पौधे का दर्शन करें। इससे काफी लाभ पहुंचता है। शनि देव से संबंधित आपके जीवन में जो कोई भी परेशानी है। उसका निदान शमी की पूजा करने से दूर हो जाती है। यदि आपके घर में धन की कमी है तो शुक्रवार की शाम को शमी के तने में एक लाल मौली बांध कर उसे रात भर छोड़ दे। अगले दिन सुबह उठ कर स्नान करके मौली खोल दें और एक चांदी की डिबिया में रखकर उसे अपनी अलमारी में रख दें। इससे आपके घर में कभी धन की कमी नहीं होगी।

रोग से मुक्ति पाने के लिए

shami ka paudha
hindubulletin
आपके घर परिवार में अगर कोई काफी लंबे समय से बीमार चल रहा है तो इस समस्या से निदान पाने के लिए शनिवार के दिन शाम को शमी के पौधे के नीचे पत्थर या किसी अन्य धातु का बना हुआ एक छोटा सा शिवलिंग स्थापित करें। शिवलिंग के ऊपर दूध अर्पित करें और पौराणिक तरीके से शिव की पूजा करें। इसके बाद दोनों हाथ जोड़कर भगवान शंकर का ध्यान लगाते हुए। महामृत्युंजय मंत्र की एक माला का जाप करें। इससे अगर आपके परिवार में किसी को या फिर आपको खुद किसी बीमारी की समस्या है तो वह दूर हो जाएगी।

समय पर शादी होने के लिए

shadi ke liye
New India Times
कई बार किसी लड़का या लड़की की शादी सही समय पर नहीं हो पाती है। उनके रिश्ते बनते-बनते रह जाते हैं। ऐसे में शमी की पूजा करने से इस समस्या का समाधान निकल सकता है। आमतौर पर शादी नहीं होने के पीछे एक कारण यह भी होता है कि कुंडली में शनि का प्रभाव आपका विवाह नहीं होने देता। ऐसे में आप लगातार 24 दिनों तक शमी के पौधे के पास एक घी का दीपक प्रतिदिन शाम को चलाएं और पौधे की सिंदूर से पूजा करें। शमी के वृक्ष के सामने ध्यान लगाते हुए अपनी विवाह कि कामना करें।
Facebook Comments