Janmashtami Dhaniya Panjiri Prasad Recipe: धनिया पंजीरी भगवान श्रीकृष्ण का सबसे प्रिय भोग है। इसके बिना जन्माष्टमी का प्रसाद अधूरा माना जाता है। धनियां पंजीरी विशेष रूप से जन्माष्टमी(Janmashtami) के दिन फलाहार व्रत खोलने में खाई जाती है क्योंकि सामान्य पंजीरी आटे की बनी होने के कारण व्रत के प्रसाद में शामिल नहीं की जाती। जन्माष्टमी का या कोई भी व्रत करने वाले लोग व्रत खोलते समय इसी पंजीरी को खाकर अपना व्रत खोलते हैं। वैसे आप धनिया पंजीरी कभी भी बनाकर खा सकते हैं क्योंकि यह स्वादिष्ट होने के साथ ही पौष्टिक भी होती है। तो आइए जानें धनिया पंजीरी बनाने की मुख्य विधि।

धनिया पंजीरी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री: (Dhaniya Panjiri Prasad Recipe)

Dhaniya Panjiri Prasad
Image Source – Facebook
  • धनिया पाउडर- 100 ग्राम (एक कप)
  • बूरा या पिसी चीनी – ½ कप
  • देसी घी – 3 टेबल स्पून
  • पका नारियल – ½ कप (कद्दूकस किया हुआ)
  • मखाने – ½ कप (बारीक कटे)
  • काजू – 10 (बारीक कटे)
  • बादाम – 10 (बारीक कटे)
  • चिरोंजी – 1 चम्मच

धनिया पंजीरी बनाने की विधि: (Dhaniya Panjiri Prasad Recipe)

Dhaniya Panjiri Recipe
Image Source – vanitascorner.com
  • सबसे पहले एक कढ़ाई में 1 टेबल स्पून घी डालकर गरम करें और फिर उसमें पिसा धनिया मिला कर लगातार चलाते हुए अच्छी सुगंध आने तक भून लें। ध्यान दें कि गैस मीडियम फ्लेम पर ही रहे वरना धनिया जल जाएगा।
  • अब मखानों को छोटा-छोटा काट कर एक छोटे फ्राइपैन में थोड़ा सा घी डालकर भून लें और इसे भुने हुए धनिये में मिला दें (आप चाहें तो इसे किसी मिक्सर जार में 2 सेकेंड के लिए चला लें, इससे भी ये छोटे टुकड़ों में तब्दील हो जाएंगे)।
  • अब धनिये के मिश्रण में बारीक कटे हुए काजू और बादाम मिला दें।
  • सबसे आखिर में कद्दूकस किया नारियल, बूरा या पिसी चीनी मिलाकर अच्छे से चला दें।
  • धनिया पंजीरी  तैयार है। अब आप इस धनिया पंजीरी का भोग अपने लड्डू गोपाल को लगा सकते हैं और फिर स्वं खाकर अपना व्रत भी खोल सकते हैं।

यह भी पढ़े

नोट : अगर आपके पास साबुत धनिया है तो आप पहले साबूत धनिया लेकर इसे भून लें और फिर इसे मिक्सर जार में डालकर बारीक पीस लें और उसके बाद इसे घी में भूनकर पंजीरी(Dhaniya Panjiri Prasad) बना लें।

Facebook Comments