Kumbh Mela 2019 मौनी अमावस्या में इस बार यह अद्भुत संयोग बन रहा है। मौनी अमावस्या पर कई वर्षों बाद ऐसा हो रहा है कि जब कुम्‍भ मेला चल रहा हो और मौनी अमावस्या सोमवार को हो। यह अमावस्या, सोमवारी अमावस्या है। मौनी अमावस्या और प्रयागराज कुम्भ 2019 का दूसरा शाही स्नान होने के कारण सोमवार को संगम तट पर आस्था की पवित्र डुबकी लगाने वालों की भारी भीड़ जुटी है। श्रद्धालुओं की भारी भीड़ कुंभ स्नान के लिए पहुंच रही है।प्रयागराज कुंभ के अलावा सोमवती अमावस्या को लोग हरिद्वार, वाराणसी और गंगासागर में भी डुबकी लगाएंगे।

मौनी अमावस्या का महत्व: (Kumbh Mela 2019: Mauni Amavasya Dusra Shahi Snan)

Kumbh Mela 2019
Uttar Pradesh Tourism

कुंभ पर्व में मौनी अमावस्या पर दान का खास महत्व है। सम्पूर्ण कुम्‍भ महापर्व में मौनी अमावस्या का स्नान मुहूर्त अन्य सभी स्नान पर्वों में सर्वोत्तम कहा गया है। मौनी अमावस्या के विशेष पुण्यकाल पर स्वयं का उद्धार तथा पितरों को तारने के लिए संगम के अक्षय क्षेत्र में दान का विशेष विधान शास्त्रों में वर्णित है। मौनी अमावस्या कुम्भ में दान करने से अनिष्ट ग्रहों की पीड़ा का शमन होता है और पूरे वर्ष घर में सुख शांति रहती है।

Kumbh Mela 2019
tourmyindia

मौनी अमावस्या 3 फरवरी  मध्य रात्रि से शुरू हो जाएगी और सोमवार की आधी रात तक रहेगी। सोमवार को दिनभर मौनी अमावस्या का शुभ मुहूर्त है। किसी भी वक्त आप स्नान या दान कर सकते हैं।

Facebook Comments