Carrom Board Rules in Hindi: कैरम यानि बच्चे हो या बड़े सभी का सबसे पसंदीदा गेम। सबसे बढ़िया टाइमपास। शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे कैरम खेलना पसंद ना हो। बेहद ही आसान ये खेल रोमांच से भी भरा है जिसे बच्चे, बूढ़े, जवान, महिलाएं सभी खेल सकते है| इस खेल की सबसे बड़ी खासियत यही है कि ये मनोरंजन के लिए खेला जाता है। और इसे खेलने का उद्देश्य स्वास्थ्य से जुड़ा नहीं है। ना ही इसे खेलने के लिए किसी लंबे चौड़े मैदान की ज़रूरत है। बस बाज़ार से कैरम खरीदा और घर के किसी भी हिस्से में बैठकर कर दिया खेल शुरू। शायद यही कारण है कि ये खेल इतना ज्यादा लोकप्रिय है। लेकिन इस खेल के भी कुछ नियम है। चलिए अब विस्तार से इस खेल के बारे में आपको जानकारी देते हैं।

1.कैरम बोर्ड – इस खेल में प्लाइवुड या हार्डबोर्ड का बना बोर्ड होता है जो वर्गाकार होता है। इसी के ऊपर सभी गोटियां डालकर ये खेल खेला जाता है।

2.स्ट्राइकर लाइन – बोर्ड के चारों तरफ लंबी पट्टी खींची जाती है। हर पट्टी की लंबाई 47 से.मी. व चौड़ाई 3 से.मी. होती है। इन्ही पट्टियों को स्ट्राइकर लाइन कहा जाता है जिस पर स्ट्राइक रखकर ही गोटियों को हिट किया जाता है।

3.स्ट्राइकर – गोटियों को हिट करने के लिए स्ट्राइकर का इस्तेमाल किया जाता है।

4.तीर का निशान – कैरम बोर्ड में जहां भी तीर का निशान होता है उसका मतलब ये होता है कि खेलने वाले का हाथ या उंगलिया इन तीरो पर टच ना हो।

5.गोटियां – इस खेल में दो रंग की गोटियां इस्तेमाल में लाई जाती हैं। एक काली व दूसरी पीली। ये गोटियां गोल होती हैं। दोनों तरह की गोटियों की संख्या 9 – 9 होती है। व इसके अतिरिक्त एक गोटी लाल रंग की होती है, जिसे रानी कहा जाता है, खेल में प्रत्येक गोटी प्रपट करने पर एक अंक मिलता है, किन्तु रानी गोटी प्राप्त करने पर खिलाड़ी कों पांच अंक मिलते है| इसीलिए प्रत्येक खिलाड़ी की यही इच्छा होती है कि रानी गोटी को जल्द से जल्द सबसे पहले हासिल किया जाए।

कैरम बोर्ड खेलने के नियम Carrom Board Rules in Hindi

carrom rules in hindi
Image Source – Needpix
  • स्ट्राइकर को स्ट्राइकर लाइन पर रखा जाता है, लेकिन नियम ये है कि स्ट्राइकर दोनों रेखाओ से स्पर्श करता हुआ रखा जाए। अगर स्ट्राइकर एक ही रेखा को छू रहा हो तो वो फाउल माना जाता है।

  • स्ट्राइकर हिट करते समय हाथ या उंगली का कोई हिस्सा बोर्ड को नहीं छूना चाहिए। वरना फाउल होता है।

  • स्ट्राइकर हिट करते समय उंगली अथवा हाथ का कोई हिस्सा तीर के निशान से बाहर भी नहीं जाना चाहिए अगर स्ट्राइकर हिट करने के दौरान स्ट्राइकर गोंटों वाले छेद में चला जाए तो जीती हुई गोटी में से दो गोटी वापस बोर्ड में रखनी पड़ती है।

  • यदि खेल के अंत में बोर्ड पर तीन गोंटी रह जाती है- एक काली, एक पीली और लाल तो इस स्थिति में हर खिलाड़ी को पहले लाल गोटी प्राप्त करना जरूरी होता है| लाल गोटी के बाद अगर काली या पीली गोटी भी वह प्राप्त कर लेता है तो रानी उसकी हो जाती है अन्यथा लाल गोटी वापस रखनी पड़ती है।

  • अगर खेल के दौरान उंगलियां किसी भी गोटी से टच हो जाती है तो उस खिलाड़ी को अपनी एक गोटी खेल में रखनी होती है|

  • अगर दोनों खिलाड़ी के या टीमों के 27-27 अंक हो जाते है, तो गेम को 31 अंको तक बढ़ा दिया जाता है|

  • किसी खिलाड़ी अथवा टीम के 24 अंक होने पर वह रानी से 5 अंक प्राप्त नहीं कर सकता| यदि वह रानी लेकर जीतता है, तो भी उसे विरोधी की बोर्ड पर बची गोंटों के अंक मिलते है|

यह भी पढ़ें

Facebook Comments