Gautam Gambhir Reacts on World Cup 2011 Win: 2011 के वर्ल्ड कप के फाइनल मैच के दौरान धोनी को 91 रन बनाने पर मैन ऑफ द मैच का अवार्ड दिया गया, वहीं गौतम गंभीर ने 97 रन की अहम पारी खेली थी। आज 2 अप्रैल के दिन भारत को 2011 का वर्ल्ड कप खेलें पूरे 9 साल बीत चुके हैं। आज ही के दिन एम एस धोनी के लीडरशिप में भारत ने 2011 की वर्ल्ड कप ट्रॉफी पर कब्जा किया था। एम एस धोनी के द्वारा लगाए गए छक्के के कारण ही भारतीय लोगों को जश्न मनाने 00का मौका मिला था। 

आखिर क्यों भड़क उठे गौतम गंभीर? (Gautam Gambhir Reacts on World Cup 2011)

लोग आज भी ट्विटर पर धोरी द्वारा लगाए हुए छक्के को याद करते हैं, जिस पर पर गौतम गंभीर इस भड़क उठे। गंभीर ने ट्विटर के द्वारा अपने जवाब में कहा कि 2011 का वर्ल्ड कप पूरी टीम इंडिया और सपोर्ट स्टाफ ने मिलकर जीता था। अगर आप बात की गंभीरता पर गौर करें तो, यह वक्त है कि आप केवल धोनी द्वारा लगाए गए छक्के पर गौर ना करें। यह बात सच है कि धोनी द्वारा विनिंग सिक्स हर किसी की यादों में आज भी है, लेकिन उसमें गंभीर ने भी 97 रन की अहम पारी दी थी।

क्या बिगड़ रहे हैं धोनी और गंभीर के रिश्ते?

सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि गंभीर ने अपने इस ट्वीट के द्वारा धोनी पर सीधे-सीधे निशाना साधा है। धोनी और गंभीर के बिगड़ते रिश्तो की खबर फैली हुई है। गंभीर का कहना है कि वर्ल्ड कप में जीत के पीछे सिर्फ तत्कालीन कप्तान धोनी का ही हाथ नहीं बल्कि इसमें हर टीम के खिलाड़ी का बराबर योगदान था। गंभीर का यह ट्वीट लोगों के बीच बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। बहुत से लोग गंभीर का समर्थन कर रहे हैं, तो कई आलोचक बने हुए हैं।

Facebook Comments