4k Kya Hai: आजकल हम जब भी कोई नया डिवाइस खरीदने जाते हैं तो यह जरूर देखते हैं की क्या इसमें 4K वीडियो आराम से चल पायेगी। फिर हम चाहे कोई मोबाइल खरीदने जा रहे हो या फिर कोई टेलीविज़न। ज़ाहिर सी बात है कि जो भी टेक्नोलॉजी मार्किट में नयी आएगी उपभोगता उसी ओर आकर्षित हो जायेंगे और यह स्वाभाविक भी है। लेकिन हममे से कितने लोग 4K का असली मतलब समझता है? तो चलिए आज हम आपको 4K वीडियो से जुड़ी को रोमांचिक बातें बताने जा रहे है जिससे जानकार आप भी समझ पाएंगे कि 4K आखिरकार होता क्या है?

4K क्या है (What is 4K in Hindi)

4K का हॉरिजॉन्टल रिज़ोलुशन 3840 या 4096 पिक्सल्स होता है और वर्टीकल रिज़ोलुशन 2160 पिक्सेल्स होता है। इसका मतलब साफ़ साफ़ है कि आपके स्क्रीन का जितना ज्यादा पिक्सेल्स होगा उतनी ही ज्यादा अच्छी आपको पिक्चर क्वालिटी मिलेगी। इसको यदि हम आसान भाषा में समझे तो 4K डिस्प्ले में फुल एचडी से चार गुना ज्यादा डिस्प्ले होता है। अर्थात 4 फुल एचडी (FHD) के बराबर की क्वालिटी होती है।

अब अगर हम तकनिकी भाषा में बात करे तो इसके दो प्रतिरुप होते है, एक है DCI 4K,  इसका रेज़लुशन 4096×2160 होता है जिसे ज्यादातर फिल्म और वीडियो प्रोडक्शन इंडस्ट्री में इस्तेमाल किया जाता है DCI का फुल फॉर्म डिजिटल सिनेमा इनिशिएटिव (Digital Cinema Initiatives) होता है।

और जो 4K का दूसरा प्रतिरूप है उसे हम 4K UHD कहते है। इसे अल्ट्रा हाई डेफिनिशन कहा जाता है। इसका रेज़लुशन 3840×2160 तक होता है। यह तकनीक टेलीविज़न एवं वीडियो गेम में उपयोग किया जाता है।

बहुत पहले शुरुआती दिनों में टेलीविज़न एसडी (SD) क्वालिटी के साथ आया करता था, फिर धीरे धीरे इसका विकास हुआ एवं बाद में एचडी (HD), फिर उसे बाद फुल एचडी (FHD), एवं उसके बाद अल्ट्रा एचडी (UHD), तथा उसके बाद आता है 4K, इसका सरल सा कारण है की जैसे जैसे युग का विकास होगा वैसे वैसे ही टेक्नोलॉजी में भी विकास देखने को मिलेगा। अभी हम किसी भी चीज की खरीदारी करने जाते है चाहे फिर वो मोबाइल, टेलीविज़न, कैमरा इत्यादि डिस्प्ले स्क्रीन वाले गैजेट्स हो, हम ये जरूर देखते है की क्या यह डिवाइस 4K को सपोर्ट करता भी है या नहीं। ज़ाहिर सी बात है, हमे 4K के साथ बेहतर क्वालिटी में स्क्रीन देखने को मिलता है।

Facebook Comments