इंटरनेट बहुत सारी जानकारियों से भरा हुआ है। हर कोई अपनी रुचि के अनुसार इंटरनेट से जानकारी हासिल करता है। इंटरनेट एक साथ जुड़े लाखों उपकरणों से बना है और दुनियाभर में जानकारी प्रदान करता है। बहुत से लोगो नहीं जानते कि इंटरनेट को तीन श्रेणियों में बाँटा गया है, जो कि इस प्रकार है: सरफेस वेब (Surface Web), डीप वेब (Deep Web), डार्क वेब (Dark Web)

Dark Web Kya Hai
The Patriot Press

हम आपको इन तीनो श्रेणियों सरफेस वेब, डीप वेब और डार्क वेब की पूरी जानकारी देने वाले है। (Dark Web Kya Hai, Dark Web Details in Hindi)

सरफेस वेब (Surface Web):

Surface Web-Dark Web Kya Hai
Get Tech Tricks

सरफेस वेब सामान्य वेब है जो इंटरनेट का उपयोग करने वाले सभी लोग को आसानी से दिखाई देता है। फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर इत्यादि वेबसाइट जो आप इस्तेमाल करते हो सभी सरफेस वेब के अंतर्गत आती है। सरफेस वेब की वेबसाइट सर्च इंजन जैसे:- गूगल, बिंग द्वारा इंडेक्स की जाती है। आपको ये जान कर हैरानी होगी कि सरफेस वेब पुरे इंटरनेट का बस 4 प्रतिशत भाग है।

डीप वेब (Deep Web):

Deep Web-Dark Web Kya Hai
TechFunnel

डीप वेब एक गुप्त वेब है जो सभी लोगो के लिए नहीं है। डीप वेब में वेबसाइट या वेबसाइट का कोई पेज जो सर्च इंजन द्वारा इंडेक्स नहीं किया जाता है। कोई व्यक्ति डीप वेब को तभी इस्तेमाल कर सकता है, जब उसके पास इसे एक्सेस करने का अधिकार हो या उसके पास कोई भी अनुमति हो (जैसे यूआरएल URL, यूजरनेम (Username) और पासवर्ड (Password) आदि)। डीप वेब का उपयोग ज्यादातर व्यक्तिगत जानकारियों को सँभालने के लिए किया जाता है जैसे (क्लाउड स्टोरेज, किसी भी कंपनी का व्यक्तिगत डेटा और सैनिको का डेटा आदि)।

डार्क वेब (Dark Web):

Dark Web Details In Hindi-Dark Web Kya Hai
Cryptoconsulting

यह है इंटरनेट के सबसे खतरनाक भाग जिसे डार्क वेब या डार्कनेट (Darknet) कहा जाता है। डार्क वेब का उपयोग करना अवैध है। सभी गैर कानूनी गतिविधियां जैसे: ड्रग्स डीलिंग, फिरौती, हत्याकाण्ड आदि डार्क वेब द्वारा होती है। आप क्रेडिट कार्ड नंबर, सभी प्रकार की ड्रग्स, बंदूकें, कला धन, चोरी की क्रेडेंशियल्स, हैक किए गए खाते और सॉफ़्टवेयर खरीद सकते हैं और अन्य लोगों के कंप्यूटरों को हैक करवाने के लिए हैकर को काम के लिए खरीद सकते है। डार्क वेब को केवल विशेष सॉफ्टवेयर और विशेष रूप से कॉन्फ़िगर किए गए नेटवर्क सेटिंग्स के साथ ही एक्सेस किया जा सकता है। अगर आपके पास “टोर ब्राउजर” (Tor Browser) है तो ही आप डार्क वेब को एक्सेस कर सकते है। टोर ब्राउजर कई आई.पी (I.P) की परतें बना सकता है और आपको गुमनाम रूप से इंटरनेट पर डार्क वेब का एक्सेस दिलवा सकता है।

Tor Browser-Dark Web Kya Hai
techadvisor

डार्क वेब पर कुछ साइट की फोटो (ये .onion साइट हैं, जिसका अर्थ है कि वे TOR नेटवर्क के अंतर्गत आती है:

Dark Web Website Images-Dark Web Kya Hai
twitter
Dark Web Website Image-Dark Web Kya Hai
Dailymail
Dark Web Website images-Dark Web Kya Hai
News.com.au

हमारी सलाह है कि डार्क वेब पर मत जाना क्योंकि यह अवैध है और हम अवैध गतिविधियों को बढ़ावा नहीं देते। यह लेख सिर्फ आपका ज्ञान बढ़ाने के लिए है।

यह भी पढ़े: SEO क्या है? SEO कैसे करते है? SEO की पूरी जानकारी। (SEO Kya Hai । SEO Kaise Kare)

Facebook Comments