वैसे देखा जाए तो देश में घूमने के लिए एक दो नहीं बल्कि हजारों ऐसी खूबसूरत जगहें हैं जहां पर आप चाहे अकेले या फिर परिवार या दोस्तों के साथ अच्छा समय बिता सकते हैं। इसी सिलसिले में आज हम आपको बताने जा रहे हैं पंजाब के अमृतसर में घूमने की जगहों के बारे में। जी हां, ये वही अमृतसर है जहां का स्वर्ण मंदिर विश्वभर में प्रसिद्ध है। बता दें कि अमृतसर में कई ऐसे दर्शनीय स्थान हैं जो पर्यटकों को बहुत पसंद आते है। अमृतसर अपने आकर्षण स्थलों के साथ-साथ अपने मेहमान नवाजी के लिए भी काफी ज्यादा मशहूर है। यही वजह है कि यहां आने वाले सभी पर्यटक बेहद ही प्रसन्न हो कर फिर से आने की इच्छा के साथ वापस जाते हैं। अमृतसर जिसे अम्बरसर के नाम से भी जाना जाता है, यह सिख धर्म के चौथे गुरु श्री रामदास जी द्वारा बसाया गया शहर है, जिसे कभी ‘रामदासपुर’ के नाम से भी जाना जाता था। आपको बता दें कि तिहास और अध्यात्म में इस शहर का बड़ा योगदान है। भारत के पंजाब राज्य में पड़ोसी देश पाकिस्तान की सीमा से 28 किलोमीटर की दूरी पर स्थित अमृतसर शहर स्वर्ण मंदिर गुरुद्वारा श्री हरमंदिर साहिब जी के लिए पूरी दुनिया में सुविख्यात है। यह सिख धर्म का प्रमुख धार्मिक स्थान है। तो चलिये जानते हैं अमृतसर के कुछ बेहद खास और महत्वपूर्ण घूमने के स्थानों के बारे में।

1. जलियांवाला बाग [Jallianwala Bagh]

Jallianwala Baghजलियांवाला बाग स्वतंत्रता संग्राम का जीता जागता उदाहरण है, जो तक़रीबन 2000 सिख व हिंदुओं की शहादत का गवाह है। विश्व के इतिहास में जलियांवाला बाग हत्याकांड को एक बर्बर नरसंहार माना गया है, जहां 13 अप्रैल 1919 को अंग्रेजी सेनाओं की एक टुकड़ी ने निहत्थे भारतीए प्रदर्शनकारियों पर अंधाधुंध गोलियां चालाई थीं। इस बर्बर हत्याकांड में करीब 1000 से भी ज्यादा लोगों की मृत्यु हो गई। बता दें कि इस बाग़ की दीवारों पर आज भी गोलियों के निशान बने हुए हैं। यही पर शहीदों की याद में एक स्मारक बनवाया गया है, जहां हमेशा एक ज्योति प्रज्वलित रहती है।

2. महाराजा रंजीत सिंह म्यूजियम [Maharaja Ranjit Singh Museum]

Maharaja Ranjit Singh Museum

इसके अलावा भी अमृतसर में और कई सारी शानदार जगहें हैं, जो घूमने के उद्देश्य से बहुत ही बेहतर हैं। ऐसी ही एक जगह है महाराजा रणजीत सिंह संग्रहालय। यह एक सुंदर इमारत है जहां पर महाराजा रणजीत सिंह की शाही विरासत वस्तुओं जैसे हथियार और कवच, शताब्दी पुराने सिक्के, उत्कृष्ट पेंटिंग और पांडुलिपियों को संग्रह करके रखा गया है। यह महल प्रसिद्ध रामबाग गार्डन से घिरा हुआ स्थान है।

और पढ़े:- पंजाब में घूमने की जगह

3. स्वर्ण मंदिर [Golden Temple]

Golden Temple

आपको बता दें अगर आप अमृतसर घूमने जाते हैं तो आपकी ये ट्रिप हरमिंदर साहिब में मत्था टेके और लंगर खाये बिना पूरी नहीं मानी जाती है। हरमिंदर साहिब यानी कि अमृतसर के सबसे आध्यात्मिक स्थानों में से एक स्वर्ण मंदिर। इसे ‘गोल्डन टेंपल’ के नाम से भी जाना जाता है और इस मंदिर का इतिहास बहुत ही ज्यादा पुराना है। बता दें कि विध्वंसों के दौर से गुजरने के बाद सन 1830 में स्वर्ण मंदिर को संगमरमर और सोने से महाराजा रणजीत सिंह द्वारा फिर से निर्मित करवाया गया था। यह मंदिर अमृतसर शहर के केंद्र में स्थित है।

4. वाघा बॉर्डर [Wagah]

Wagah

बाघा बॉर्डर भारत में पंजाब के अमृतसर में स्थित है। शाम के वक्त बीटिंग रिट्रीट और चेंज ऑफ गार्ड सेरेमनी को देखने यहां हर रोज बड़ी संख्या में पर्यटकों के साथ-साथ आम लोग भी पहुंचते हैं। भारत और पाकिस्तान दोनों ही देशों के जवान यहां पूरे उत्साह के साथ अपनी देशभक्ति का प्रदर्शन करते हैं। बता दें कि अमृतसर के स्वर्ण मंदिर आने वाले तकरीबन 90 प्रतिशत से भी ज्यादा पर्यटक वाघा बॉर्डर भी जरूर जाते हैं। वाघा बॉर्डर, स्वर्ण मंदिर से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर है। आपको पता होना चाहिए कि भारत और पाकिस्तान के बीच का यह एक मात्र सड़क मार्ग है। बताते चलें कि अमृतसर में खरीददारी के लिए हॉल बाजार भी है, जहां से आप एक से बढ़कर एक इलेक्ट्रॉनिक आइटम से लेकर खूबसूरत आभूषण तथा सर्वोत्तम क्वालटी की किताबें, हस्तशिल्प और रेडीमेड कपड़ों की ख़रीदारी कर सकते हैं। साथ ही अंर्टिसर में वास्तुकला का नमूना देखना है तो इसके लिए आप खैर उद्दीन मस्जिद अवश्य जाएं। इस मस्जिद की स्थापना मोहम्मद खैर उद्दीन के द्वारा कराई गई थी।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।

Facebook Comments