मानसून वह मौसम है जब हर किसी जीव जंतु को भीषण गर्मी से राहत मिलती है । अगर देखा जाये तो मानसून वो मौसम है जब बारिश प्रकृति को चार चाँद लगा देती है और प्रकृति अपने सबसे सूंदर रूप में दिखाई देती है और अपने लुभावने रूप से लोगो का मन मोहती है । मानसून में लोग अपने घर की किसी खिड़की या फिर अपनी बालकनी से चाय और पकोड़ो के साथ आनंद लेते है और कुछ ऐसे लोग भी होते है जो अपने किसी दोस्त या पार्टनर के साथ देश भर में इस मौसम का आनंद लेने के लिए निकल लेते है ।

भारत में मानसून ना ही बस गर्मी से राहत दिलाने आता है बल्कि देश के जो किसान है जिन्हे अपनी खेती की चिंता पानी की कमी से रहती है मानसून उनके लिए एक उम्मीद बन के आता है और उनकी खेती को पानी प्रदान करके
उनको राहत देती है । और यही किसान देश को गेंहू, चावल, दाल आदि देने में सफल हो पाते है ।
मानसून एक ऐसा मौसम है जिसके आने की सबको ख़ुशी होती है परन्तु अगर ज्यादा मात्रा में यह पानी बरसा देता है तो लोगो के लिए आफत भी बन जाता है । लेकिन प्रकृति कभी नहीं चाहेगी कि कभी वो हम लोगो को ज़्यादा परेशान करे ।
कुछ ऐसी खूबसूरत जगह मानसून में घूमने के लिए:

 

कोडाइकनाल, तमिल नाडु

कोडाइकनाल डिंडीगुल डिस्ट्रिक्ट की पहाड़ियों में बसा एक सूंदर शहर है । यह समुद्र तल से 2133 मीटर ऊँचा एक शांत शहर है । 1845 ई. में अंग्रेज़ो ने इस स्थान को अपना हिल स्टेशन बनाया था । कोडाइकनाल का तमिल भाषा में अर्थ है – वन का उपहार । यहां पर कुरिन्‍जी नामक एक विशेष फूल है जो 12 साल में खिलता है जिसको यहां के लोग अपनी शान मानते है ।

Kodaikanal
Twitter

चेरापूंजी, मेघालय

चेरापूंजी ‘सोहरा’ के नाम से भी जाना जाता है । कहते है कि मानसून में चेरापूंजी सबसे ज़्यादा नम स्थान होता है वही एक ऐसा समय होता है जब चेरापूंजी बहुत ही खूबसूरत होता है। लहरदार पहाड़, बहुत सारे झरनो और वहा की जानजाती को देख कर आपका मन खुश हो जायेगा ।

cherapunji
thrillophilia

अगुम्बे, कर्नाटक

अगुम्बे शिमोगा जिले के तीर्थहल्ली में स्थित है । अगुम्बे मलनद प्रदेश के नाम से भी प्रसिद्ध है । कन्नड़ के महान कवि कुवेम्पु अगुम्बे के है । यह प्रदेश अपनी हरयाली और झरने की खूबसूरती के लिए प्रसिद्ध है । दक्षिण भारत में अगुम्बे एक ऐसा स्थान है जहा पर सबसे ज़्यादा बारिश होती है ।

Agumbe
365hops

बीकानेर, राजस्थान

बीकानेर राजस्थान का एक प्रसिद्ध शहर है । जो की भारत की राजधानी दिल्ली से 495 की. मी. की दूरी पर स्थित है । ऊँट, रेगिस्तान, ऊँचे किले, राजपूत राजाओं की बहुदारी के इतिहास के लिए मशहूर है । मानसून के दौरान बीकानेर के तापमान भी निचे गिर जाता है और रेगिस्तान में अगर मौसम ठंडा हो तो खुद बा खुद हमे वह लुभाने लगता है ।

Bikaner
RNB

लोनावाला, महाराष्ट्र

मुंबई से कुछ किलोमीटर दूर पुणे के बाद ही लोनावाला एक ऐसी जगह है जो मुंबई के उनलोगो के लिए है जिन्हे घूमने का बहुत शोक है । जब भी किसी का प्रकृति को निहारने का दिल करता है तो वो लोनावाला की तरफ निकल जाते है और यह हाल बस मुंबई वालो का नहीं बल्कि वहा के आस पास के अन्य राज्यों के लोगो का भी है ।

Lonavala
wikipedia
Facebook Comments