दुनिया का हर इंसान अपना भला चाहता है और हर किसी को अपने घर में बरकत चाहिए होती है लेकिन बहुत सी ऐसी चीजें हमसे अनजाने में हो जाती है जो बरकत को खत्म करता है। Kitchen हमारे घर का अहम हिस्सा होता है और हर व्यक्ति चाहता है कि यहीं से उनके घर में दिन दोगुनी और रात चौगुनी तरक्की हो जाए। ऐसा नहीं है कि वे अपने घर की तरक्की नहीं चाहते हैं और मेहनत भी नहीं कर रहे हैं लेकिन अनजाने में उनसे ऐसा हो जाता है और अक्सर

Kitchen से ही आती है घर में बरक्कत

आमतौर पर सभी दिन-रात काम करते हैं और इसी कोशिश में रहते हैं कि उनके घर और काम में बरकत आए। बुरा भाग्य जब पीछे पड़ता है तब इंसान बहुत परेशान हो जाता है लेकिन दिक्कतें तब ज्यादा आती हैं जब वो परेशानियां बढ़ने लगती हैं। हम जो उपाय बताने जा रहे हैं को हर किसी के किचन से जुड़ा है। किचन एक ऐसी जगह है जहां से पूरे परिवार का पेट भरता है और ऐसे में किचन के अंदर की ऊर्जा चाहे वो सकारात्मक हो या नकारात्मक हो, यही पूरे परिवार की मानसिर और आर्थिक स्थिति पर असर डालती है। इसका दूसरा एंगल ये भी है कि हर किचन में अन्नपूर्णा मां का वास होता है और ऐसे में अगर आप उन्हें प्रसन्न रखना चाहते हैं तो किचन में एक पॉजिटिव माहौल का होना बेहद जरूरी होता है। अगर निगेटिव वातावरण रहेगा तो अन्नापूर्णा जी नाराज भी हो सकती हैं और ऐसे में अगर आप रोजाना खाना बनाने के बाद एक छोटा सा काम कर देंगे तो आपकी सभी समस्या का एक साथ हल मिल जाएगा और आपके घर में बरकत भी आने लगेगी।

हर घरों में रोटी जरूर बनती है और ऐसे में जब आपकी रोटियां पूरी बन जाएं और आप अपना तवा बद करें तो आटे का एक छोटा सा टुकड़ा चपटा करके इस तवे पर रख दीजिए। उस समय तवा गर्म रहेगा इसलिए ये कुछ देर सिक भी जाएगा और इस सिके हुए आटे के टुकड़े को आप अपने गैस के चुल्हे पर भोग के रूप में रख दें। ये भोग आप अपने किचन में घूम रही अच्छी और बुरी शक्तियों को लगाते हैं और इससे वे आपके काम में बाधा नहीं डालती हैं और आपके घऱ में शांति बनी रहती है। ये एक प्रकार से उन शक्तियों के लिए सम्मान प्रकट करना होता है कि आपके इस जेस्चर से वे खुश होती हैं और घर में कोई निगेटिव गतिविधियां नहीं होने देते। इस तरह से किचन में पॉजिटिव माहौल आता है और अन्नपूर्णा मां भी प्रसन्न रहती हैं। इस तरह से आपके घर में बरकत की भी कोई कमी नहीं होती है और घर में अन्न कभी खत्म नहीं होता है।

यहां पर एक बात ध्यान देने वाली ये है कि चूल्हे पर आप जो आटे का टुकड़ा रखते हैं उसे बाद में फेंके नहीं बल्कि किसी जानवर जैसे गाय, कुत्ता या कौवे को खिला दें। इससे अन्न का नुकसान भी नहीं होता है और आपको पुन्य भी मिल जाएगा। जिस दिन आपके घर रोटी नहीं बनती है तो आप चूल्हे पर कोई दूसरी खाने की चीज रख सकते हैं और इसमें कोई भी चीज शामिल हो सकती है। ऐसा आपको सुबह और शाम दोनों समय करना चाहिए इससे आपको जरूर लाभ मिलेगा।

Facebook Comments