Amitabh Bachchan and Shatrughan Sinha Controversy: 1970 के दशक की बात है जब बॉलीवुड के दो सितारे अमिताभ बच्चन और शत्रुघ्न सिन्हा फिल्म इंडस्ट्री पर राज कर रहे थे। इस दौरान ये दोनों काफी अच्छे दोस्त हुआ करते थे। दोनों की दोस्ती के किस्से जग जाहिर थे। लेकिन इनकी दोस्ती में खटास तब आई जब दोनों ने यश चोपड़ा की फिल्म ‘काला पत्थर’ में एक साथ काम किया।

इससे पहले भी वे साथ में कई फिल्मों में काम कर चुके थे। लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा नहीं चल पाई। पर इस फिल्म की ऑफस्क्रीन चर्चा काफी समय तक रही। क्योंकि दोनों की दोस्ती में खटास आ गई थी। इस बात का खुसाला शत्रुघ्न सिन्हा ने खुद अपनी बायोग्राफी ‘एनिथिंग बट खामोश!’ में किया है।

इगो ने खराब की दोस्ती

Amitabh Bachchan and Shatrughan Sinha

शत्रुघन सिन्हा ने अपनी बायोग्राफी में बताया है कि दोनों की दोस्ती के बीच, उस दौरान इगो आ गई थी। अमिताभ बच्चन को लगता था कि शत्रुघ्न सिन्हा उन पर भारी पड़ रहे हैं। उन्होंने अपनी बायोग्राफी में काला पत्थर फिल्म के दौरान हुए एक इंसीडेंट के बारे में ज़िक्र किया है। इस इंसीडेंट के बाद दोनों में दरार आ गई थी।

‘अमिताभ ने बुरी तरह मारा था’

काला पत्थर फिल्म की स्क्रिप्ट के अनुसार, सिन्हा को बताया गया था कि बिग बी और उनके बीच बराबरी की लड़ाई होगी। जब इस सीन को शूट किया जा रहा था तो यह स्क्रिप्ट के एकदम उलट हो गया था। अमिताभ बच्चन सीन के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा को बुरी तरह पीट रहे थे। सेट पर मौजूद शशि कपूर को जैसे ही इन दोनों पर संदेह हुआ, उन्होंने तुरंत दोनों को अलग करवाया। इसके बाद शत्रुघ्न ने काम करने से ही मना कर दिया, जिससे शूटिंग 3-4 घंटे तक टल गई। इस बात से अमिताभ बच्चन और ज्यादा नाराज़ हो गए थे।

अमिताभ के ऐसे बर्ताव से हैरान थे सिन्हा

Shatrughan Sinha controversy
Image Source: DNAindia.com

इस फिल्म से पहले दोनों में गहरी दोस्ती थी। लेकिन फिल्म के दौरान काफी चीज़ें बदल चुकी थीं। सिन्हा ने अपनी बायोग्राफी में ये भी बताया है कि अगर अमिताभ के साथ वाली कुर्सी खाली भी होती थी, तो भी वह उन्हें ऑफर नहीं करते थे। यहां तक कि अगर उन दोनों को एक ही होटल में जाना होता था तो अमिताभ कभी उन्हें एक ही कार में जाने के लिए नहीं पूछते थे। इस तरह के बर्ताव से शत्रुघ्न काफी हैरान और अजीब फील किया करते थे।

ज़ीनत और रेखा की वजह से भी आई दरार

सिन्हा ने यह भी खुलासा किया कि अभिनेत्री जीनत अमान और रेखा ने दोनों की दोस्ती में दरार लाने में काफी योगदान दिया था। उनका मानना था कि ज़ीनत और रेखा ने अपनी इमेज मजबूत करने के लिए अमिताभ से कुछ कहा होगा। क्योंकि वह उन दोनों के बारे में बहुत कुछ जानती थीं। और वे अमिताभ की ज्यादा अच्छी दोस्त थीं। उनकी दरार के बावजूद,  दोनों ने कई लोकप्रिय फिल्मों में अभिनय किया। इनमें काला पत्थर (1979),  दोस्ताना (1980),  शान (1980),  नसीब (1981) शामिल हैं।

शत्रुघ्न की कामयाबी से चिड़ रहे थे अमिताभ?(Amitabh Bachchan and Shatrughan Sinha Controversy)

शत्रुघ्न ने यह भी कहा कि बच्चन उनके साथ स्क्रीन स्पेस साझा नहीं करना चाहते थे। क्योंकि उनके काम को जो रिस्पोंस मिल रहा था, वह उसे अच्छी तरह देख पा रहे थे और इंसिक्योर थे। शत्रुघ्न ने आगे बताया कि उन्होंने बहुत सी फिल्मों को ऐसे ही जाने दिया। और बिग बी की वजह से कई फिल्मों के साइनिंग अमाउंट भी वापस कर दिये।

बुक लॉन्च पर अमिताभ ने दी थी बधाई

शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) यह भी मानते हैं कि अमिताभ बच्चन के साथ कुछ मुद्दों पर उनकी असहमति के कारण दोनों की दोस्ती में खटास आई थी। बच्चन परिवार से उनका हमेशा से ही गहरा लगाव रहा है। 2016 में मुंबई में उनकी बायोग्राफी के लॉन्च के मौके पर,  बिग बी ने मंच की शोभा बढ़ाई और अपने दोस्त को बुक ल़ॉन्च की बधाई दी। शत्रुघ्न का कहना है कि भले ही उनकी दोस्ती में उतार-चढ़ाव आए हों, लेकिन वह अमिताभ को अपना दोस्त मानते हैं।

Facebook Comments