Rishi Kapoor Biography in Hindi: अपने 40 साल के करियर में ऋषि कपूर ने केवल एक फिल्म के लिए ऑडिशन दिया था जिसमें उन्हें नेगेटिव किरदार करना पड़ा। कपूर खानदान के बारे में एक बात हर कोई जानता है कि बॉलीवुड के 100 वर्षों में 85 वर्षों का योगदान कपूर परिवार का रहा है। कपूर खानदान से ही नाता रखने वाले ऋषि कपूर एक ऐसे अभिनेता के तौर पर उभरें जिन्होंने बॉलीवुड में एक नया मिसाल कायम किया। ऋषि कपूर, कपूर खानदान की तीसरी पीढ़ी हैं। वह बॉलीवुड निर्माता- निर्देशक और अभिनेता पृथ्वीराज कपूर के पोते हैं। ऋषि कपूर, कपूर खानदान के पहले ऐसे ही हीरो रहें। जिन्हें उनके जमाने में चॉकलेटी हीरो के नाम से जाना जाता था। ऋषि कपूर ने अपने फिल्मी करियर में कई सारी फिल्में की हैं, इसके लिए उन्हें कई सारे अवार्ड्स से भी नवाजा गया है। साल 2008 में ऋषि कपूर को फिल्मफेयर लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से नवाजा गया।
ऋषि कपूर का जन्म मुंबई के चेंबूर में 4 सितंबर 1952 के दिन हुआ। ऋषि कपूर बॉलीवुड के शो मैन कहे जाने वाले राज कपूर के मंझले बेटे हैं। उनकी मां का नाम कृष्णा राज कपूर था। ऋषि कपूर को लोग प्यार से चिंटू कहकर पुकारा करते थें। ऋषि कपूर ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई स्थित कैंपियन स्कूल से प्राप्त की है। इसके बाद कॉलेज की पढ़ाई के लिए उन्होंने अजमेर के मेयो कॉलेज में दाखिला लिया।
बॉलीवुड में एंट्री करने के बाद ऋषि कपूर की मुलाकात बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकारा नीतू से हुई और वह दोनों शादी के बंधन में बंध गए। ऋषि कपूर के दो बच्चे हैं रणबीर कपूर और रिद्धिमा कपूर, रणबीर कपूर ने अपने पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए बॉलीवुड में अपनी पहचान एक चॉकलेटी हीरो के तौर पर बनाई है। जबकि रिधिमा कपूर की शादी बिजनेसमैन भारत साहनी के साथ हुई है।
rishi kapoor biography in hindi

कैसा रहा ऋषि कपूर का फिल्मी करियर [Rishi Kapoor History]

कपूर परिवार से होने के कारण ऋषि कपूर शुरू से ही फिल्मों में काम करना चाहते थें। साल 1970 में उन्होंने अपने पिता के साथ फिल्म  ‘मेरा नाम जोकर’ में डेब्यू किया। इस फिल्म में उन्होंने अपने पिता यानी कि राज कपूर के बचपन का किरदार निभाया है। बतौर हीरो ऋषि कपूर ने बॉलीवुड में अपनी शुरुआत फिल्म ‘बॉबी’ से की। इस फिल्म में उनके साथ अभिनेत्री के तौर पर डिंपल कपाड़िया ने काम किया है।
साल 1973 से लेकर 2000 तक ऋषि कपूर ने करीब 92 फिल्मों में रोमांटिक हीरो के तौर पर काम किया। वहीं करीब 51 फिल्मों में उन्होंने सोलो लीड एक्टर के तौर पर अभिनय किया है। ऋषि कपूर ने अपने करियर में कई सारी रोमांटिक हिट फिल्में की हैं। इनमें से 12 फिल्मों में वह अपनी पत्नी नीतू के साथ काम करते नजर आए हैं।
साल 1998 में ऋषि कपूर ने अपने करियर में कुछ नया करने का सोचा और वह अभिनय छोड़ निर्देशक की भूमिका में नजर आएं। इस दौरान उन्हें अक्षय खन्ना और ऐश्वर्या राय को लेकर एक फिल्म बनाया इस फिल्म का नाम था आ अब लौट चलें।
ऋषि कपूर ने अपने करियर की शुरुआत से ही रोमांटिक फिल्मों में काम करना चाहा था। उनके इस तरह के किरदार को लोगों ने पसंद भी किया। लेकिन एक फिल्म ऐसी भी रही। जिसमें उन्होंने खलनायक की भूमिका निभाई। फिल्म का नाम था ‘अग्नीपथ’ ऋषि कपूर ने कभी सोचा भी नहीं था कि उनके खलनायक के किरदार को लोग इतना पसंद करेंगे। इस फिल्म में उनका अभिनय लोगों को इतना पसंद आया कि उन्हें फिल्म के लिए बेस्ट नेगेटिव रोल का आईफा अवार्ड भी मिला। इस फिल्म के बाद ऋषि कपूर ने फिल्म ‘डे’ में ‘डी कंपनी’ के गोल्डमैन का किरदार निभाया। ऋषि कपूर के इस किरदार को भी लोगों ने काफी पसंद किया।
ऋषि कपूर के करियर की पहली फिल्म ‘बॉबी’ ‘मेरा नाम जोकर का’ रीमेक थी। इस फिल्म में राज कपूर बतौर हीरो राजेश खन्ना को लेना चाहते थें। लेकिन फंड की कमी होने के कारण उन्हें मजबूरी में इस फिल्म में ऋषि कपूर को साइन करना पड़ा। लेकिन वह इस बात को नहीं जानते थें कि ऋषि कपूर को लेकर बनाई गई यह फिल्म इतनी हिट हो जाएगी।
शादी से पहले नीतू और ऋषि कपूर ने एक-दूसरे को डेट किया था। लेकिन नीतू ऋषि कपूर के जीवन में पहली लड़की नहीं थी। इससे पहले ऋषि यास्मीन नाम की एक लड़की को डेट किया करते थें। ऋषि कपूर का अफेयर डिंपल कपाड़िया के साथ भी रह चुका है। ऋषि कपूर ने अपने 40 साल के फिल्मी करियर में केवल एक फिल्म के लिए ऑडिशन दिया है और उस फिल्म का नाम है, ‘अग्निपथ’ इस फिल्म में ऋषि कपूर ने नेगेटिव रोल भी पहली बार किया था। कोई जानता भी नहीं था कि ऋषि कपूर कि यह एक्टिंग लोगों को इस हद तक पसंद आएगी।
Facebook Comments