Ram Gopal Varma Tweet: देशभर में इस वक्त कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन चल रहा है। देशवासियों को इसकी वजह से कई तरह की परेशानियों का भी सामना करना पड़ रहा है। देश की अर्थव्यवस्था पर लॉकडाउन का सीधा असर भी देखने को लगातार मिल रहा है। इसी क्रम में कोरोना वायरस से जो इलाके कम संक्रमित हैं, वहां थोड़ी छूट दिए जाने की भी शुरुआत हो गई है। शराब की दुकानें इस दौरान अब खोल दी गई हैं। शराब खरीदने के लिए जो दुकानों के बाहर लंबी लाइन लग रही हैं, उनमें कई जगहों पर महिलाओं को भी लाइन में खड़े देखा जा रहा है। इस पर फिल्म निर्देशक राम गोपाल वर्मा की ओर से एक विवादित बयान दे दिया गया है। बॉलीवुड सिंगर सोना मोहपात्रा को रामगोपाल वर्मा का यह बयान बिल्कुल भी पसंद नहीं आया है। उन्हें उनकी क्लास भी लगा दी है।

शेयर की तस्वीर

फिल्म निर्देशक रामगोपाल वर्मा का तो विवादों से नाता हमेशा ही रहा है। अक्सर विवादों में बने रहने वाले राम गोपाल वर्मा की ओर से ट्विटर पर एक फोटो शेयर किया गया है। इस फोटो में शराब की दुकान के बाहर कतार में महिलाओं को खड़े देखा जा रहा है। रामगोपाल वर्मा ने इसके कैप्शन में लिखा है कि देखिए शराब की दुकान के बाहर लगी हुई लाइन में कौन खड़ी हैं? ये वही हैं जो शराबियों का हमेशा जमकर विरोध करती हुई नजर आती हैं।

शुरू हुआ विरोध (Sona Mohapatra Reaction Ram Gopal Varma Tweet)

रामगोपाल वर्मा के इस बयान के सामने आने के बाद बड़ा बवाल मच गया है। रामगोपाल वर्मा का लोगों ने जमकर विरोध करना शुरू कर दिया है। बॉलीवुड गायिका और हमेशा महिलाओं के लिए अपनी आवाज मुखर करने वालीं सोना मोहपात्रा की तरफ से भी रामगोपाल वर्मा के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की गई है।

सोना ने ऐसे दी प्रतिक्रिया

सोना मोहपात्रा ने राम गोपाल वर्मा पर प्रहार करते हुए लिखा है कि प्रिय मिस्टर राम गोपाल वर्मा। वक्त आ गया है कि उन लोगों की लाइन में जाकर आप खड़े हो जाएं, जिन्हें ज्ञान की सबसे अधिक आवश्यकता है, ताकि आपको यह पता चल जाए कि जो ट्वीट आपने किया है, वह महिलाओं के खिलाफ भेदभाव जैसी चीज को प्रोत्साहित तो कर ही रहा है, साथ में समाज के नैतिक मापदंडों से भी इसका कोई सरोकार नहीं दिख रहा। उन्होंने आगे लिखा है कि आपको मैं बता दूं कि शराब खरीदने और पीने की महिलाओं को भी पूरी तरह से पुरुषों की तरह ही आजादी है। फिर भी आपको पता होना चाहिए कि किसी के पास भी शराब पीने के बाद उग्र या फिर फसादी होने का कोई हक नहीं है।

मीटू मूवमेंट को लेकर भी मुखर

गौरतलब है कि महिलाओं के समर्थन में हमेशा सोना मोहपात्रा को आवाज उठाते हुए देखा जाता है। पिछले वर्ष भी जब मीटू मूवमेंट शुरू हुआ था तो उनकी ओर से इसका जमकर समर्थन किया गया था। आरोपों के घेरे में जो भी स्टार्स उस वक्त रहे थे, सोना मोहपात्रा की ओर से उनकी जमकर क्लास भी लगाई गई थी।

Facebook Comments