Pradhan Mantri Ujjwala Yojana: केंद्र सरकार की ओर से देश के वंचित और गरीब वर्ग के लोगों के लिए हर साल कई योजनाएं शुरू की जाती हैं। जिनका लाभ भी ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिलता रहता है। हालांकि हम आपको केंद्र सरकार की एक ऐसी योजना के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका लाभ अभी तक आपको नहीं मिला है, तो आपके पास आखिरी मौका है इसका लाभ लेने का। जानकारी के मुताबिक साल 2016 में केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई प्रधानमंत्री उज्जवला योजना(Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) की अवधि को केंद्र सरकार ने एक महीने के लिए बढ़ा दिया है।

Grt Free Cylinder In Ujjwala Yojana
Image Source – Economictimes.com

दरअसल यह योजना तीन साल के लिए शुरू की गई थी, जिसकी अवधि अब एक महीने तक बढ़ा दी गई है। ऐसे में आपके पास इस योजना का लाभ लेने का आखिरी मौका बचा है। आप रजिस्ट्रेशन करवाकर इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इस योजना के तहत सरकार गरीबी रेखा से नीचे जीवन जीने वाले परिवारों को सिलेंडर का कनेक्शन देती है। 

इस योनजा के तहत सरकार का उद्देश्य ग्रामीण इलाकों में महिलाओं को लड़की और गोबर के उपले के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान से बचाना था। इसकी समयसीमा पहले अप्रैल 2020 तक ही तय की गई थी लेकिन अब सितंबर तक लाभार्थी इसका लाभ ले सकते हैं। सरकार के ऐलान के मुताबिक 7.4 करोड़ महिलाओं को सितंबर तक मिलने वाली इस सुविधा पर कुल 13500 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। 

लाभार्थी होने की शर्तें

How to Get Free Cylinder Pradhan Mantri Ujjwala Yojana
Image Source – Dnaindia.com

आपको बता दें कि इस योजना का लाभ गरीबी रेखा से नीचे आने वाले परिवारों को ही मिलता है। बीपीएल परिवार की महिला अपने नाम पर ही इस योनजा का लाभ ले सकती है। 

  • आवेदन करने वाली महिला की उम्र 18 साल से ऊपर हो। 
  • आवेदक महिला का सब्सिडी राशि प्राप्त करने के लिए देशभर के किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में बचत खाता होना चाहिए।
  • महिला के परिवार में पहले से एलपीजी कनेक्शन नहीं होना चाहिए।
  • महिला के पास बीपीएल कार्ड और बीपीएल राशन कार्ड होना चाहिए।

यह भी पढ़े

इसके साथ ही आवेदन करने वाली महिला के पास सभी जरूरी दस्तावेज होने चाहिए, जिनमें उसके पास अधिकृत बीपीएल राशन कार्ड, पंचायत प्रधान या नगर पालिका अध्यक्ष की ओर से प्रमाणित बीपीएल कार्ड, फोटो पहचान पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो, जनधन बैंक खाता, आधार कार्ड नंबर और एलआईसी पॉलिसी आदि शामिल हैं।

Facebook Comments