फेसबुक ने भारत में बीते महीने व्हाट्सएप पेमेंट लॉन्च किया है। अब यूजर्स अपने दोस्तों और परिवार वालों को व्हाट्सएप के जरिए उसी तरह से पैसे भेज सकते हैं, जितनी आसानी से वे मैसेज भेजा करते हैं। यह भारत में यूपीआई सिस्टम की वजह से संभव हो पाया है। यूनाइटेड पेमेंट्स इंटरफेस ने अलग-अलग एप्स के जरिए किसी के लिए भी तुरंत पेमेंट को स्वीकार करना आसान बना दिया है।

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग(Mark Zuckerberg) ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी(Mukesh Ambani) के साथ दो दिनों के फेसबुक फ्यूल फॉर इंडिया 2020 कार्यक्रम में वर्चुअल बातचीत के दौरान यह बात कही है।

ज़ुकरबर्ग(Mark Zuckerberg) ने जताया आभार

Mark Zuckerberg With Mukesh Ambani
Image Source – Satyagrah

मुकेश अंबानी ने मार्क जुकरबर्ग(Mark Zuckerberg) से इस दौरान कहा कि भारत में हम आपके कदमों का इंतजार कर रहे हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि भारतीय नीतियों से पूरी दुनिया सीख रही है। इसका जवाब देते हुए जुकरबर्ग ने कहा कि हमारी पार्टनरशिप में आपने और आपकी कंपनी ने जो कुछ भी किया है, उसके लिए हम आपके आभारी हैं।

फेसबुक बन गया चेहरा

बातचीत के दौरान मुकेश अंबानी ने यह भी कहा कि डिजिटल रूप से जुड़े हुए भारत का फेसबुक चेहरा बन चुका है। साथ ही उन्होंने मार्क जुकरबर्ग(Mark Zuckerberg) को दुनिया के डिजिटल नेटवर्क का सच्चा आर्किटेक्ट भी करार दिया। अंबानी ने यह कहा कि उनकी कंपनी ने भारत में कुछ कनेक्टिविटी और ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी की है, जबकि फेसबुक ने पूरी दुनिया के लिए यह काम किया है।

यह भी पढ़े

144 बैंकों का सपोर्ट

जुकरबर्ग ने इस दौरान कहा कि फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम पर भारत पहले से ही दुनिया की सबसे बड़ी कम्युनिटी का घर बन चुका है। उन्होंने इस दौरान यह भी खुलासा किया कि उनकी कंपनी 144 बैंकों के साथ काम कर रही है।

Facebook Comments