Punjabi Panjiri Recipe: पंजीरी, भारत की व्रत में खाई जाने वाली सबसे पसंदीदा डिश है। वैसे तो इसे ज्यादातर हम पूजा-पाठ या त्योहारों में ही बनाते है, लेकिन कुछ लोग इसे सर्दियों में शरीर को गरम रखने के लिए भी खाते हैं। दरअसल, इसमें डाली जाने वाली मेवों की मात्रा के कारण यह काफी गरम होती है और शरीर को भी गरम रखती है। खास तौर पर पंजाबी पंजीरी।

पंजाबी पंजीरी(Punjabi Panjiri) सूजी में ढेर सारी मेवा और चीनी मिला कर बनाई जाती है और इसीलिए स्वादिष्ट होने के साथ ही बेहद पौष्टिक भी होती है। आमतौर पर पंजाबी पंजीरी(Punjabi Panjiri) बनाने में थोड़ा ज्यादा समय लगता और शायद इसीलिए यह इतनी स्पेशल होती है। तो चलिए आज जानते हैं पंजाबी पंजीरी को स्पेशल बनाने की ये खास विधि।

पंजाबी पंजीरी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री: (Punjabi Panjiri Ingredients)

Punjabi Panjiri Ingredients
Image Source – Khanakhazana.org
  • घी : 200 ग्राम
  • गोंद : ¾ कप
  • मखाने : 3 कप
  • काजू : 1 कप
  • बादाम : 1½ कप
  • पिस्ता : ¾ कप
  • किशमिश : ½ कप
  • खरबूजे के बीज : 1 कप
  • सूजी : ½ किलो
  • नारियल : 1 कप (कद्दूकस किया हुआ)
  • इलाइची पाउडर : 1 टेबलस्पून
  • चीनी : ½ किलो (बारीक पिसी हुई)

पंजाबी पंजीरी बनाने की विधि: (Punjabi Panjiri Recipe)

Punjabi Panjiri Recipe
Image Source – Jollyhomemaderecipes.com
  • सबसे पहले एक कढ़ाई में थोड़ा सा घी डालकर गरम कर लें और फिर उसमें गोंद डालकर चलाएं। थोड़ी देर में आप देखेंगे की गोंद फूलकर दुगनी हो गई है।
  • अब गोंद को एक बाउल में निकाल लें और उसी घी में मखाने भूनकर उसी बाउल में निकाल लें।
  • इसके बाद इसी घी में काजू, बादाम और पिस्ता को भी बारी-बारी से भूनकर उसी बाउल में निकाल लें।
  • अब सभी मेवों को मिक्सर जार में डालकर उन्हें दरदरा पीस लें।
  • अब कढ़ाई में बचे हुए घी में किशमिश और खरबूजे के बीज को एक-एक कर भूनकर निकाल लें।
  • फिर बचे हुए घी में सूजी डालकर लगातार चलते हुए सूजी के लाल होने तक भूनें।
  • सूजी भुन जाने पर उसमें नारियल पाउडर और इलाइची पाउडर डाल दें और 2-4 मिनट चलाकर गैस बंद कर दें।
  • अब एक बड़ा सा कटोरा लें और उसमें भुनी हुई सूजी, पिसी हुई मेवा, भुने हुए किशमिश और खरबूजे के बीज व पिसी हुई चीनी को डालकर, सबको अच्छी तरह से मिला लें।
  • हमारी पंजाबी पंजीरी(Punjabi Panjiri) तैयार है। अब आप इसे कान्हा जी को भोग लगाइए और फिर मजे से खाइये। खाने के बाद अगर यह बच जाए तो किसी एयर टाइट कंटेनर में भरकर रख दीजिए इससे यह 2-3 महीने तक खराब नहीं होगी।

यह भी पढ़े

महत्वपूर्ण सुझाव:

  • पंजीरी बनाने के लिए आप अपने मनपसंद का कोई भी ड्राई फ्रूट इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • सभी ड्राई फ्रूट्स को एक साथ ना भूनें।
  • चीनी पाउडर हमेशा मिश्रण के ठंडा होने के बाद ही मिलाएँ।
  • चीनी मिलाने के बाद मिश्रण को गैस पर बिलकुल ना रखें।
Facebook Comments