उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए गैंगरेप(Hathras Gang Rape) और हत्या के मामले को लेकर अब राज्य की सियासत और भी तेज होती जा रही है। इस मामले को लेकर एक तरफ जहां सभी विपक्षी पार्टियां सरकार पर कमजोर कानून व्यवस्था का आरोप लगा रही हैं। वहीं अब ताजा जानकारी सामने आ रही है कि यूपी के हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष(Rahul Gandhi) और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कांग्रेस पार्टी के दोनों ही दिग्गज नेताओं को दिल्ली और उत्तर प्रदेश के बीच हाईवे से ही गिरफ्तार किया गया है। हालंकि राहुल गांधी(Rahul Gandhi) का आरोप है कि इस दौरान पुलिस ने उनके काफिले को रोककर पहले धक्का मुक्की की और बाद में लाठीचार्ज भी किया है। इस मामले को लेकर राहुल गांधी ने केंद्र सरकार ने पर निशाना साधते हुए कहा है, ‘अभी पुलिस ने मुझे धक्का दिया, मुझ पर लाठीचार्ज किया और मुझे जमीन पर गिरा दिया। मैं पूछना चाहता हूं क्या केवल मोदी जी ही देश चला सकते हैं? क्या सामान्य आदमी सड़क पर नहीं चल सकता, हमारे वाहनों को रोका गया। इसलिए हमने चलना शुरू कर दिया।’

वहीं योगी सरकार ने कांग्रेस की इस योजना को लेकर पहले ही कार्यवाही शुरू कर दी थी और कांग्रेस नेता की इस यात्रा से पहले ही यूपी प्रशासन ने लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगा दिया था और कोरोना वायरस(Coronavirus) का हवाला देते हुए सीमा पर बैरिकेडिंग लगा दी थीं। वहीं जब कांग्रेस नेताओं के काफिले को रोका गया, तो पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर से नारेबाजी भी की गई। वहीं हाथरस से लगभग 142 किलोमीटर पहले ही कांग्रेस के काफिले को रोक लिया गया था।

यह भी पढ़े

हालांकि काफिला रोके जाने के बाद राहुल गांधी(Rahul Gandhi) और उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा(Priyanka Gandhi) अपने वाहनों से बाहर निकले और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ ही चलना शुरू कर दिया। जिसको लेकर राहुल गांधी का आरोप है कि पुलिस ने उनके साथ धक्का मुक्की की और पुलिस की ओर से लाठीचार्ज भी किया गया। गौरतलब हो कि हाथरस गैंगरेप(Hathras Gang Rape) पीड़िता की बीते मंगलवार को ही दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। जिसके बाद से इस मामले को लेकर बवाल लगातार बढ़ता जा रहा है।

Facebook Comments