Superstitions Related to Rain: मानसून जिसे दूसरी भाषा में बारिश भी कहा जाता है, किसी शहर में बहुत अधिक तो कहीं बिल्कुल नहीं होती। यह कई लोगों के लिए एक इमोशन की तरह होती है जिसके होने पर कुछ खुश और कई दुखी भी हो जाते हैं। उत्तर भारत में जून से लेकर सितंबर तक बारिश का मौसम होता है। चिलचिलाती धूप और गर्मी के बाद बारिश का मज़ा कुछ और ही होता है। लेकिन अगर बारिश ज्यादा हो जाए तो भारत के किसान की फसलें खराब हो जाती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं बारिश को लेकर कई अंधविश्वास (Superstitions Related to Rain) भी हैं जिनको जानकर आप चौंक जाएंगे।

आज हम आपको बारिश से जुड़े कुछ इसी तरह के 7 अन्धविश्वासों से वाकिफ कराते हैं-

Superstitions Facts of Monsoon Rain
Image Source – Pixabay

1- ऐसा कहा जाता है कि जो लोग बारिश वाले दिन पैदा होने वे बहुत बातूनी होते हैं।

वहीं हमारे बुजुर्गों का कहना है कि, ऐसे लोग बातूनी होने के साथ चंचल होते हैं।

2- कढ़ाई में खाना खाने वालों की शादी के दिन बारिश होती है। जी हां कुछ लोग मानते हैं कि, अगर आप कढ़ाई में खाना खाते हैं तो आपके शादी में बारिश होगी, लेकिन इसका वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं।

3- धूप के साथ बारिश का मतलब! सियार की शादी। कहते हैं शादी के दिन बारिश के वक्त अगर धूप निकलती है तो इसका असर वर-वधु को एक साथ बांधने वाली ‘कन्यादान की गांठ’ पर पड़ता है, इससे रिश्ता मजबूत होता है।

4- महिलाएं नग्न होकर खेत में हल चलाएं तो होती है बारिश। जी हां यह भी एक अंधविश्वास है कि इससे बारिश होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

5- राह चलते लोगों पर पानी व गोबर फेंका तो होती है बारिश।

6- यह भी कहा जाता है कि अगर आपको एक जगह पर ढेर सांप दिख गए, तो समझिए बारिश पक्की है।

Snakes Superstition in India
Image Source – Sciencemag.org

7- कई बार हिदायत दी जाती है कि बारिश के दौरान मामा-भांजा को साथ नहीं खड़ा होना चाहिए क्योंकि इससे बिजली गिरती है।

यह पुराने ज़माने से चली आ रही प्रथाओं और लोगों की बारिश को लेकर कुछ अंधविश्वास (Superstitions Related to Rain) हैं। हमारी आपसे गुज़ारिश है कि इस प्रकार की बातों पर आप यकीन न करें।

यह भी पढ़े

ये जादू ही तो है! समुद्र आपस में मिलते हैं, लेकिन इनका पानी नहीं, जानें क्या है राज?

सिर पर बाइक उठाकर चढ़ गया बस पर, देखने वालों ने कहा- आज का बाहुबली

Facebook Comments