Amitabh Bachchan Celebrate Jagannath Rath Yatra With Special Note: बॉलीवुड के मेगास्टार अभिनेता अमिताभ बच्चन एक ऐसे स्टार हैं जो सोशल मीडिया पर भी अपने वास्तविक रूप में ही रहते हैं। वो कभी भी सोशल मीडिया पर खोखली या दोगली बातें नहीं करते हैं, यही शायद उनकी पर्सनालिटी की सबसे बड़ी ख़ासियत भी है। अमिताभ बच्चन अपने इंस्टाग्राम पेज पर आए दिन कोई ना कोई थ्रोबैक पिक्चर या अपने पिताजी की कही बातें और कविताएं अपने फैंस के साथ शेयर करते रहते हैं। सुंदर थ्रोबैक तस्वीरों को साझा करने से लेकर अपने आध्यात्मिक पक्ष के बारे में बात करने तक, बिग बी को अपने पोस्ट के साथ अपने फैंस को अपडेट रखना पसंद है। हाल ही में, उन्होंने उड़ीसा में जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत के साथ एक सुंदर पोस्ट साझा किया है। आइये आपको विस्तार से बताते हैं इस बारे में।

आज से हुई जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत

Jagannath yatra
Image Source – Dnaindia.com

सबसे पहले आपको बता दें कि, आज 23 जून से जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत हो गई है। बता दें कि, कोरोना वायरस की वजह से इस साल जगन्नाथ रथ पर पाबंदी लगाने की मांग की गई थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बाद चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया ने केंद्र सरकार के नियमों के पालन के साथ इस यात्रा को संपन्न करने की इजाज़त दे दी थी। उड़ीसा के पुरी स्थित जगन्नाथ मंदिर से हर साल भव्य रथ यात्रा निकाली जाती है। आज से शुरुआत होने वाली इस रथ यात्रा में सोशल डिस्टैन्सिंग के साथ ही कोरोना वायरस से सुरक्षा के मद्देनज़र हर पहलू को ध्यान में रखा जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, हर साल की तरह इस साल इस रथ यात्रा में विशाल संख्या में भक्त शामिल नहीं हो पाएंगे। इस केवल इस यात्रा को लेकर एक औपचारिकता मात्र निभाई जाएगी।

अमिताभ बच्चन ने अपने पोस्ट में किया “जगरनोट” शब्द का उल्लेख

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत के साथ ही अमिताभ बच्चन ने भी इसके लिए अपनी ख़ुशी प्रकट की। उन्होनें सोशल मीडिया पर अपने पोस्ट में लिखा है कि “ 23 जून जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत। इस महोत्सव की विशालता के कारण अंग्रेजी शब्द ‘जगरनोट’ का भी प्रयोग किया जाता है। इसका अर्थ बहुत बड़ा शक्तिशाली और विशाल है । इस शब्द की उत्पत्ति अविश्वसनीय जगन्नाथ मंदिर पुरी उड़ीसा से हुई है।” आगे बिग बी ने इस रथ यात्रा के बारे में लिखा है कि, जो लोग भगवान् जगन्नाथ की रथ यात्रा से अनजान हैं उन्हें बता दें कि, ये दुनिया का सबसे बड़ा रथ यात्रा त्यौहार है। इस दौरान भगवान जगन्नाथ और उनके भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा को नौ दिनों के लिए रथ पर रखा जाता है। यह यात्रा जगन्नाथ मंदिर से शुरू होकर गुंडिचा मंदिर में रुकती है। यह भारत में सबसे प्रसिद्ध पवित्र जुलूसों में से एक है।

यह भी पढ़े

अमिताभ बच्चन ने इस पोस्ट में आगे लिखा है कि “मैंने मंदिर का दौरा किया और कुछ साल पहले भगवान् जगन्नाथ के दर्शन किए। यह एक बहुत अच्छा अनुभव रहा है,मंदिर के भीतर एक सादगी है लेकिन इसके वाबजूद विश्वास के बल की उपस्थिति वास्तव में अविश्वसनीय है।

Facebook Comments