Atal Pension Yojana in Hindi: अटल पेंशन योजना(APY) सरकार द्वारा आयोजित एक तरह की पेंशन स्कीम है। जो कि असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए काफी फायदेमंद है। अटल पेंशन योजना में निवेश करके आप रिटायरमेंट के बाद अपने खर्चे के लिए एक नियमित रकम अपने खाते में पा सकते हैं। अटल पेंशन योजना की शुरुआत केंद्र सरकार ने साल 2015 में की। इससे पहले असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को इस तरह की पेंशन योजना नहीं मिलती थी।

अटल पेंशन योजना के तहत आप निवेश करते हैं तो रिटायर होने के बाद हर महीने पेंशन के तौर पर आपको एक राशि मिलती है। इस योजना की खास बात यह है कि अगर आपकी असामयिक मृत्यु हो जाती है तो उसके बाद भी आप का परिवार इसका फायदा ले सकता है।

अटल पेंशन योजना के तहत निवेश करने वाले व्यक्ति की अगर मृत्यु हो जाती है। तो उसके बाद उसकी पत्नी को वह पेंशन मिल सकता है और अगर पत्नी की भी मृत्यु हो जाती है तो उस स्थिति में बच्चों को पेंशन मिलने का प्रावधान बनाया गया है। रिटायरमेंट के बाद अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन पाने के लिए आपको कुछ सालों तक इसमें निवेश करना पड़ता है। आपके निवेश के साथ-साथ सरकार भी इसमें अंशदान करती है।

Image result for atal pension yojana in hindi

किन लोगों के लिए है अटल पेंशन योजना(APY)

अटल पेंशन योजना के तहत कोई भी भारतीय इसमें हिस्सा ले सकता है। इस योजना से जुड़ने के लिए केवल आपके पास एक बैंक खाता होना चाहिए। अटल पेंशन योजना से जुड़ने के लिए आपके पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है, इस योजना का लाभ केवल उन लोगों को ही मिल सकता है। जो इनकम के टैक्स स्लैब से बाहर हैं। इस योजना के तहत जुड़ने के लिए लोगों के उम्र के कैटेगरी को 6 भागों में बांटा गया है। योजना का लाभ उठाने के लिए आपकी उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच में होनी चाहिए। योजना के तहत अगर आप पेंशन पाना चाहते हैं तो कम से कम आपको 20 साल तक निवेश करना होगा।

अटल पेंशन योजना के तहत कितना मिलता है पेंशन

इस योजना के तहत मिलने वाली पेंशन की रकम आपके द्वारा किए गए निवेश और आपकी उम्र पर निर्भर करती है। योजना के तहत कम से कम पेंशन की रकम 1000 रुपए होती है और ज्यादा से ज्यादा इसके तहत 5000 रुपए तक मासिक पेंशन मिलता है। इस योजना के तहत निवेश करने वाले व्यक्ति को 60 साल की उम्र के बाद पेंशन मिलना शुरू हो जाता है। अटल पेंशन योजना से आप जितना जल्दी जुड़ेंगे उतना ही ज्यादा फायदा आपको मिलेगा। उदाहरण के तौर पर अगर कोई व्यक्ति इस योजना से 18 साल की उम्र में जुड़ता है। तो उसे हर महीने 210 रुपए निवेश करने होते हैं। रिटायरमेंट की उम्र आते ही 60 साल के बाद उसे हर महीने 5000 रुपए मासिक पेंशन के रूप में मिलना शुरू हो जाएगा। एक बात ध्यान रहे कि जो लोग इनकम टैक्स के दायरे में आते हैं या फिर सरकारी नौकरी कर रहे हैं। इसके अलावा जो लोग पहले से ही ईपीएफ या ईपीएस जैसी योजना का लाभ ले रहे हैं। वे अटल पेंशन योजना से नहीं जुड़ सकते हैं।

Facebook Comments