Covid-19 Lockdown: इटली अमेरिका और चाइना के हालातों से सबक लेते हुए भारत सरकार ने देशवासियों को इस वैश्विक महामारी से बचाने के लिए बीते दिनों महत्वपूर्ण कदम उठाएं हैं। इनमें से एक है देश के कुछ बड़े शहरों को पूरी तरह से लॉकडाउन यानि कि बंद कर देना। काफी लोगों को इसकी जानकारी अभी नहीं है और कुछ लोग जानकारी होने के वाबजूद भी उन नियमों को फॉलो नहीं कर रहे हैं। बता दें कि, लॉकडाउन के दौरान सरकारी नियमों का पालन ना करने से आप जेल भी जा सकते हैं। आइये एक नजर डालते इस खबर पर विस्तार से।

क्या है लॉकडाउन की स्थिति

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए और देशवासियों को इस बीमारी से बचाने के लिए भारत सरकार ने दिल्ली, मुंबई, राजस्थान और उत्तरप्रदेश के कुछ जिलों के साथ देश के कुल 80 जिलों को लॉकडाउन कर दिया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें, इस स्थिति में स्कूल, कॉलेज, यातायात के साधन, मॉल, सिनेमाघर, जिम, रेस्टुरेंट, बार आदि को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। लोगों को अपने घरों से निकलने की मनाही है, जब तक बहुत आवश्यक ना हो तब तक घर से बाहर ना निकलें ऐसे निर्देश जारी किए गए हैं।

सभी सरकारी ऑफिस और प्राइवेट ऑफिस को भी इस दौरान बंद कर दिया गया है। केवल मीडिया कर्मी, हॉस्पिटल में काम करने वाले डॉक्टर और कर्मचारियों, बिजली विभाग और जल विभाग में काम करने वाले कर्मचारी अपने काम पर जा सकते हैं। इसके साथ ही साथ मेडिकल शॉप, राशन की दुकानें और फल सब्जी बेचने वालों को लोगों की सुविधा के लिए खुला रखने के निर्देश हैं।

यह भी पढ़े

इस दौरान बिना काम घर से बाहर निकलना पर सकता है भाड़ी (Covid-19 Lockdown)

बता दें कि, राजधानी दिल्ली और आसपास के एनसीआर क्षेत्रों में 23 मार्च से लॉकडाउन के साथ ही धारा 144 भी लगा दी गई है। ये 31 मार्च तक फॉलो करने के निर्देश दिए गए हैं, इस दौरान यदि कोई व्यक्ति बाहर सड़क पर बिना किसी काम के पाया जाता है तो उसे एक हज़ार रूपये के जुर्माने के साथ ही जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है। बीते दिनों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा है, हम जनता की सुरक्षा के लिए ही ये कदम उठा रहे हैं। हम नहीं चाहते जो गलती इटली और अमेरिका ने की वो भारत भी करें। इसलिए जब तक बेहद जरूरी ना हो तब तक घर से ना निकलें।

लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 22 मार्च को लोगों से जनता कर्फ्यू की मांग की थी जिसके सफल प्रयोजन के बाद ही देश भर के सभी बड़े शहरों को 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का आदेश दिया गया है। बता दें कि, अबतक कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़कर 428 हो गई है। इसलिए ऐसी स्थिति में जहाँ तक हो सके अपने घर के अंदर रहें और सुरक्षित रहें। सरकारी नियमों का पालन करें और मुसीबत की इस स्थिति का डटकर सामना करें।

Facebook Comments