Delhi Police: कोरोना महामारी ने इस वक्त जब पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है और भारत में भी तेजी से इसका संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है, तो ऐसे में बहुत से लोग हैं जो जरूरतमंदों की मदद के लिए लगातार आगे आ रहे हैं। पुलिस जहां लोगों की सुरक्षा कर रही है, वहीं पुलिस का एक और मानवीय चेहरा सामने आया है। जी हां, दिल्ली पुलिस की ओर से गरीबों और बेघर लोगों के बीच खाने के 50 लाख पैकेट बांटे गए हैं। दिल्ली पुलिस की ओर से यह जानकारी अपने टि्वटर हैंडल से शेयर की गई है। खाने की पैकेट का फोटो दिल्ली पुलिस की ओर से पोस्ट किया गया है।

1948 के बाद पहली बार (Food Packets Delivered Among Poor by Delhi Police)

इस फोटो को पोस्ट करने के साथ ही इसके कैप्शन में दिल्ली पुलिस ने लिखा है कि वर्ष 1948 में दिल्ली पुलिस की स्थापना हुई थी। उसके बाद से आज तक के इतिहास में दिल्ली पुलिस की ओर से चलाया गया यह सबसे बड़ा मानवीय राहत अभियान है। कैप्शन में यह भी लिखा है कि 50 लाख खाने के पैकेट इस अभियान के तहत गरीबों के साथ दिहाड़ी मजदूरों एवं बेघर लोगों के बीच बांटे गए हैं। यही नहीं, जरूरतमंद परिवारों के बीच 145 टन अनाज भी दिल्ली पुलिस ने बांटे हैं।

केंद्र का राज्यों को निर्देश

लॉकडाउन इस वक्त पूरे देश में लगा हुआ है। इसका सबसे बुरा असर ग़रीबों और बेघर लोगों पर पड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से 21 दिनों के लॉकडाउन को बढ़ाकर अब 3 मई तक इसकी गंभीरता को देखते हुए कर दिया गया है। ऐसे में दिहाड़ी मजदूरों, गरीबों और बेघर लोगों की खराब हालत को देखते हुए सरकार की ओर से भी कई ठोस कदम उठाए गए हैं। राज्य सरकारों को भी केंद्र सरकार की ओर से गरीबों को निशुल्क अनाज दिए जाने के निर्देश जारी किए गए हैं।

बढ़ती जा रही तादाद

देश में कोरोना मरीजों की तादाद अब 16 हजार के करीब पहुंच गई है। मृतकों की भी संख्या 600 के समीप है। मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। उम्मीद की जा रही है कि 3 मई तक लॉकडाउन को बढ़ाए जाने से इसका लाभ मिलेगा।

Facebook Comments