Coronavirus Test: कोरोना वायरस को भारत में दस्तक दिए आज 2 महीने से ज्यादा हो गए हैं लेकिन अब तक कोरोना का प्रकोप खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना से संक्रमित लोगों की जांच के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) ने एक जांच किट जारी की है। IIT दावा कर रहा है कि यह कीट कोरोना के जांच के लिए अब तक की सबसे सस्ती कीट होगी। आईसीएमआर की लैब ने इसकी पुष्टि करते हुए इसे मंज़ूरी दे दी है। खबरों की मानें तो ऐसा कहा जा रहा है कि इस किट की मदद से जांच तो सस्ती होगी ही बल्कि इसके सटीक परिणाम भी आएंगे।

Coronavirus Test – सिर्फ 300 रुपए में होगा कोरोना का टेस्ट

ANI

IIT दिल्ली के डायरेक्टर प्रोफेसर राम गोपाल राव ने कहा कि ‘इस किट द्वारा किए गए एक टेस्ट की कीमत महज 300 रुपये होगा। और इसका परिणाम भी एक दम ठीक आएगा। यह सामान्य किट की तुलना में तेज़ी से काम करेगा।’ हालांकि यह टेस्ट करने में कुल कितना समय लगेगा यह अभी साफ नहीं हुआ है। प्रोफेसर ने आगे कहा कि संस्थानों में कोरोना से जुड़े और भी शोध हो रहै हैं, जिसके बारे में वे जल्द ही बात करेंगे। IIT के एक और प्रोफेसर वी. पेरूमल ने बताया कि यह किट जनवरी से ही तैयार की जा रही थी और तीन महीने में वे इस किट को बना पाने में सफल हुए हैं। उनका कहना है कि यह कोरोना की जांच करने का सबसे सस्ता विकल्प होगा जिससे बड़ी संख्या में कोरोना के टेस्ट हो सकेंगे।

IIT दिल्ली बना पहला ऐसा संस्थान

IIT Delhi made the cheapest test kit for Coronavirus Test
Economictimes

बताया जा रहा है कि IIT दिल्ली स्थित कुसुमा स्कूल ऑफ बायोलॉजिकल सांइसेज के रिसर्चरों ने इस किट को बनाया है। IIT दिल्ली पहला ऐसा संस्थान बन गया है जिसने किट पर आईसीएमआर की मंजूरी ली है। आपको बता दें कि भारत ने चीन से भी टेस्ट किट्स का आयात किया था लेकिन उसकी क्वालिटी और रिज़ल्ट में कई तरह की परेशानियां सामने आ रही थीं। इस रिसर्च से जुड़े प्रोफेसर बिस्वजीत कुंडु ने बाताया कि अभी किट की सही कीमत बता पाना सही नहीं होगा, क्योंकि जो कंपनी इस कीट को आगे बनाएगी, वह इसकी कीमत निर्धारित करेगी। बड़े पैमाने में इसका निर्माण काफी कम कीमत पर होगा।

यह भी पढ़े कोरोना को लेकर जगी उम्मीद की नई किरण, भारत को मिल सकता है वैक्सीन!

किट का हुआ पेटेंट

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक इस टेस्ट किट का पेटेंट करवा लिया गया है। इसे आईआईटी दिल्ली के फाउंडेशन फॉर इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी ट्रॉसफर ने पेटेंट किया है। बता दें कि इस किट के ज़रिए 30 से 50 टेस्ट किए जा सकते हैं। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस किट की कीमत 15 बज़ार तक हो सकती है।

Facebook Comments