Lockdown 4 Guidelines: कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन के चौथे चरण की शुरुआत हो चुकी है। जी हां, लॉकडाउन 4 में कुछ शर्तों के साथ पाबंदियां जारी रहेंगी, लेकिन कुछ इलाकों में काफी ज्यादा छूट दी जाएगी। इतना ही नहीं, लॉकडाउन को लेकर केंद्र सरकार ने तमाम राज्य सरकार को अपने राज्य में छूट देने पर विचार करने को कहा है, जिसके बाद सभी जगह अलग अलग तरह की छूट मिलने की संभावना है।

लॉकडाउन के चौथे चरण में ज्यादा कुछ नहीं बदलेगा, लेकिन छूट ज्यादा दी जा रही है, जिस पर अभी सभी राज्यों के मुख्यमंत्री को फैसला लेना है, जिसकी तैयारियां शुरु हो चुकी है। बता दें कि लॉकडाउन 4 में शराब, पान और गुटखे की दुकानें खुलने की अनुमति दी गई है। इसके अलावा, राज्यों को ये अधिकार दिए गए हैं कि वे कंटेनमेंन जोन के बाहर ये तय कर सकते हैं कि कौन सी दुकानें खुलेंगी या कौन सी बंद रहेंगी, जिस पर आज सभी राज्य अपनी अपनी गाइडलाइंस जारी कर देंगे।

लॉकडाउन 4 में क्या खुलेगा?

गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के मुताबिक, लॉकडाउन-4 में ऐसी कई चीजें हैं, जो खुल जाएंगी, जिसमें होम डिलीवरी के लिए रेस्त्रां, पान और बीड़ी-सिगरेट की दुकानें शामिल हैं। इसके अलावा, सभी ई-कॉमर्स वेबसाइटें अब गैर-आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी कर सकेंगी। इतना ही नहीं, मिलने वाली रियायतों को राज्य सरकारों पर सौंपा गया है।

लॉकडाउन 4 में क्या रहेगी पाबंदियां?

Lockdown 4 Guidelines
Naidunia

गृह मंत्रालय के अनुसार, एक दुकान में एक बार में 5 से ज्यादा लोग नहीं रहेंगे। मंत्रालय की तरफ से साफ कहा गया कि 31 मई तक देश भर में मेट्रो रेल सेवा, स्कूल, कॉलेज, होटल, रेस्तरां, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, स्वीमिंग पूल, जिम आदि बंद रहेंगे। इतना ही नहीं, इस अवधि में सभी सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक रहेगी साथ ही सभी प्रार्थना और धार्मिक स्थल बंद रहेंगे, ताकि संक्रमण को रोका जा सके। बता दें कि 10 साल तक के बच्चों और 65 साल से ऊपर लोगों को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं रहेगी। बिना मास्क लगाए बाहर निकलने पर जुर्माना वसूला जाएगा।

राज्य सरकार पर निर्भर करती हैं ये चीज़ें

केंद्र सरकार की तरफ से राज्य सरकार को जोन तय करने की जिम्मेदारी दी गई है। दो राज्यों के बीच सार्वजनिक परिवाहन को आपसी सहमति पर चलाने की अनुमति दी गई है। राज्य ये तय करेंगे कि उन्हें राज्य में कितनी छूट दी जाए। हालांकि, ये सभी छूट सशर्तों पर ही दी जाएगी। कैब और टैक्सी चलाने पर राज्य सरकार की तरफ से ही फैसला लिया जाएगा। ऐसे में अब तमाम राज्य सरकार की तरफ से गाइडलाइन जारी की जाएगी।

95 हजार पार पहुंचा संक्रमण का आकड़ा

स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, समूचे भारत में अब कोरोना वायरस से बीमार लोगों का आकड़ा 96169 पहुंच चुका है। पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। बता दें कि पिछले 24 घंटों में 5242 नए कोरोना मरीज सामने आए हैं। वहीं बात अगर रिकवरी की करें, तो यह आकड़ा 36824 पहुंच चुका है। मरने वाली की संख्या 3029 हो गई है। दरअसल, लॉकडाउन के बाद भी भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण दिन ब दिन विकराल रुप लेता हुआ नजर आ रहा है, जिसे रोकने के लिए सरकार की तरफ से लगातार नए नए कदम उठाए जा रहे हैं।

Facebook Comments