PM Narendra Modi: आज देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए लॉकडाउन की अवधि को अब 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है। हालाँकि कुछ राज्यों ने पहले ही लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाने का फैसला ले लिया था। आज प्रधानमंत्री ने लोगों के मन में चल रही सभी दुविधाओं को दूर करते हुए उन्होनें पूरी तरह से देश को 3 मई तक बंद रखने की बात कही है।

पहले ये अंदेशा लगाया जा रहा था कि, हो सकता है इस बार लॉकडाउन के दौरान लोगों को कुछ छूट मिले। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया क्योंकि वर्तमान में भारत में कोरोना वायरस से लगभग दस हज़ार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। अगर अभी नियमों का पालन नहीं किया गया तो आगे चलकर और भी लोग इससे पीड़ित हो सकते हैं। हालाँकि प्रधानमंत्री ने इस संबंध में अपने संबोधन में एक ख़ास बात कही है, यदि इसका पालन किया गया तो 20 अप्रैल के बाद कुछ मामलों में लोगों को छूट मिल सकती है। आइये आपको बताते हैं क्या है वो शर्त जिसे मानने पर 20 अप्रैल के बाद छूट मिलने की आशा की जा सकती है।

PM Narendra Modi – ये है वो शर्त जिसे मानने के बाद लॉकडाउन की अवधि में छूट मिल सकती है

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन के दौरान 21 दिनों के लॉकडाउन को बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया है। अपने भाषण में प्रधानमंत्री ने कहा कि, अगर इस दौरान किसी भी गांव, नगर या कस्बे से कोई भी नया केस कोरोना का आता है तो ये देशवासियों के लिए चिंता का विषय बन सकता है। लॉकडाउन बढ़ाये जाने का मोटिव ही यही है कि, इस दौरान देश के एक-एक राज्य पर कड़ी निगरानी रखी जाए और कोरोना के केस को बढ़ने से रोका जाए। प्रधानमंत्री ने कहा कि , इस दौरान हम नजर रखेंगे और जिस जगह से एक भी नया केस नहीं आया वहां 20 अप्रैल के बाद से कुछ मामलों में छूट दी जा सकती है।

यह भी पढ़े

प्रधानमंत्री ने इस समय को सभी के लिए अग्निपरीक्षा बताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए इस समय को सभी के लिए अग्निपरीक्षा की घड़ी बताई है। उन्होनें कहा कि, यदि इस बार आप संभल गए तो कोरोना से जंग में जीत हासिल की जा सकती है। प्रधानमंत्री ने इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा है कि, यदि इस दौरान किसी भी क्षेत्र से और उन जगहों से जो पहले से ही हॉटस्पॉट है, वहां कोई केस नहीं आया तो उन क्षत्रों को 20 अप्रैल के बाद कुछ छूट दी जा सकती है। अब ये तो समय ही बताएगा कि, 20 अप्रैल के बाद देश की स्थिति कैसी होने वाली है। इसके आधार पर ही छूट को तय किया जा सकता है। इस दौरान पीएम ने सभी देशवासियों से सारे नियमों का पालन करने के लिए कहा है। वाकई में ये समय किसी अग्निपरीक्षा से कम नहीं है।

Facebook Comments